यूपी में किसान की मौत पर अखिलेश यादव ने भाजपा पर साधा निशाना, निष्ठुरता का लगाया आरोप

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में गाजीपुर बॉर्डर पर किसान आंदोलन के दौरान एक किसान की मौत पर शोक पर सियासी दाव खेलते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधते हुए अपने एक ट्वीट में भाजपा पर सत्तारूढ़ी वा निष्ठुर पार्टी होने का आरोप लगाया। नव वर्ष के पहले दिन किसान आंदोलन में ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर एक किसान की शहादत की खबर विचलित करने वाली है। घने कोहरे व ठंड में किसान लगातार अपने जीवन का बलिदान कर रहे हैं, लेकिन सत्ताधारी हृदयहीन बने बैठे हैं।साथ ही भाजपा पार्टी पर सत्तारुढ़ी वा इतना दंभ व निष्ठुर होने का आरोप लगाया है।

केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे एक किसान की शुक्रवार को गाजीपुर बॉर्डर पर दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। जिसपर किसान संगठन बीकेयू के प्रदेश अध्यक्ष राजबीर सिंह ने कहा कि कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान होने वाले किसानों की मृत्यु को शहीद का दर्जा देना चाहिए। वहीं किसान आंदोलन में हिस्सा ले रहे उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के रहने वाले एक बुजुर्ग किसान ने शनिवार को यूपी गेट पर आत्महत्या कर ली।मृतक 60 वर्षीय सरदार कश्मीर सिंह ने किसान और केंद्र सरकार के बीच अब तक हुई बातचीत के नतीजो कारण वे परेशान थे। इस कारण उन्होेंने आत्महत्या कर ली।

Gyan Dairy

 

Share