एटीएम कार्ड से पैसे निकालने के नियमों में बदलाव, एक दिन में निकाल सकेगें एक लाख रुपये तक

नई दिल्ली। देश का सबसे बड़ा ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक ने अपने ग्राहकों को सात प्रकार के एटीएम और सह डेबिट कार्ड प्रदान किए है। इस कार्ड के कई प्रकार के आधार पर दैनिक नकद निकासी की सीमा को तय किया गया हैं। एक दिन में 20.000 रुपये से लेकर 1 लाख रुपये तक ही निकासी होती है। पहली जुलाई से एसबीआई ने अपने एटीएम निकासी नियमों में संशोधन किया है। आधिकारिक वेबसाइट 9999999 पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, एसबीआई अपने नियमित बचत खाताधारकों को एक महीने में 8 मुफ्त लेनदेन करने की अनुमति देता है। इसके बाद ग्राहकों से प्रत्येक लेनदेन पर शुल्क लिया जाने का नियम होगा। एटीएम निकासी की सीमा 20,000 एसबीआई ग्लोबल इंटरनेशनल डेबिट कार्ड के जरिए एटीएम से निकासी की सीमा 40,000 होगी। एसबीआई गोल्ड इंटरनेशनल डेबिट कार्ड से एटीएम निकासी की सीमा 50,000 है।

एसबीआई प्लेटिनम इंटरनेशनल डेबिट कार्ड एटीएम निकासी की सीमा 1,00,000 तक होगी। एसबीआई इनटच टैप और गो डेबिट कार्ड के द्वारा एटीएम से निकासी की सीमा 40,000 होगी। एसबीआई मुंबई मेट्रो कॉम्बो कार्ड के द्वारा एटीएम से निकासी की सीमा 40,000 होगी और एसबीआई माय कार्ड इंटरनेशनल डेबिट कार्ड के जरिए एटीएम से निकासी की सीमा 40,000 की होगी। एसबीआई ने 18 सितंबर से देशभर के अपने सभी एटीएम में वन टाइम पासवर्ड ;व्ज्च्द्ध आधारित सुविधा शुरू कर दी है।

10,000 रुपये से ज्यादा की निकासी के लिए ओटीपी आएगा। इसके लिए आपको बैंक द्वारा भेजे गए ओटीपी को अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर दर्ज करना होगा। नही तो आपका लेनदेन विफल हो जाएगा। एसबीआई के एटीएम में आपका लेन-देन अब पहले से कहीं अधिक सुरक्षित है। एसबीआई ने ओटीपी आधारित नकद निकासी की सुविधा 10,000 रुपये और अधिक राशि के लिए 18.09.2020 से 24,7 तक बढ़ा दी है।

Gyan Dairy

 

Share