UA-128663252-1

कोरोना संकट के बीच 15 अक्टूबर से खुलेंगे सिनेमा हॉल, जारी हुई गाइडलाइन

नई दिल्ली। देश में कोरोना संकट के बीच सात महीनों बाद सिनेमा हाल खुलने जा रहा है। देश के सिनेमा घर 15 अक्तूबर से 50 फीसदी क्षमता के साथ खुल सकेंगे। इसके लिए मंगलवार को सरकार ने बकायदा मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) की घोषणा की। कंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में 15 अक्तूबर से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघरों का संचालन किया जा सकेगा। हालांकि यहां सामाजिक दूरी का पूरा-पूरा ख्याल रखना होगा। इस बात की जानकारी सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दी।

स्वास्थ्य मंत्रालय की सलाह से सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने इसके लिए SOP की घोषणा कर दी है। जारी गाईडलाइन में कहा गया है कि थियेटरों को हर शो के बाद सैनिटाइज किया जाएगा और यहां काम करने वाले स्टाफ को हैंड ग्लव्स, पीपीई किट और बूट उपलब्ध कराए जाएंगे। केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने थियेटरों के भीतर तापमान का भी जिक्र किया और कहा कि 23-30 डिग्री सेल्सियस तक ही रखा जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि थियेटरों में उचित वेंटीलेशन की व्यवस्था आवश्यक है। उल्लेखनीय है कि कोविड-19 महामारी के बाद 22 मार्च से देशभर में सिनेमा हॉल को बंद कर दिया गया ताकि संक्रमण न फैले।

इन नियमों का करना होगा पालन
. कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए कॉन्टैक्ट नंबर देना होगा।
. थर्मल स्क्रीनिंग होगी।
. मास्क लगाना अनिवार्य होगा।
. एंट्री-एग्जिट प्वाइंट और कॉमन एरिया में हैंड सैनिटाइजर की व्यवस्था करनी होगी। . यह अरेंजमेंट टच फ्री मोड में करने की कोशिश करें।
. एसिम्प्टोमैटिक लोगों को ही एंट्री देनी होगी।
. जो लोग कोरोना दिशानिर्देशों को न मानें, उनसे सख्ती से पेश आएं।
. इस तरह की जाएगी बैठने की व्यवस्था
. सिनेमा हॉल में 50 प्रतिशत से अधिक क्षमता नहीं रखी जाएगी।
. एक सीट छोड़कर ही बुकिंग हो सकेगी।
. बाकी सीटों पर नॉट टू बी ऑक्यूपाइड लिखना होगा। ऐसी सीटों पर या तो टेप लगाना होगा या फिर मार्कर लगाने होंगे।
. एक के पीछे एक व्यक्ति नहीं बैठ पाएगा।
. खाली सीटों के पीछे वाली सीट बुक होगी।
. सिर्फ पैक्ड फूड की ही इजाजत होगी। इसके लिए ज्यादा काउंटर रखने होंगे।
. ऑनलाइन पेमेंट को बढ़ावा देना होगा।
. हॉल के अंदर फूड और बेवरेजेस की डिलीवरी नहीं होगी।
. लोग कतार में अंदर-बाहर जाएं, इसके लिए इंटरवल का वक्त बढ़ाया जा सकता है।
.एक्सेस प्वाइंट्स, ऑनलाइन सेल्स प्वाइंट, लॉबी और वॉशरूम जैसे एरिया में लोगों को संक्रमण से बचने के तरीके बताने की व्यवस्था करनी होगी।
. दो शो के बीच का वक्त अलग-अलग होगा।

Gyan Dairy

 

Share