कोरोना के नए स्ट्रेन से ब्रिटेन में मची तबाही, पीएम ने फिर लिया लॉकडाउन का फैसला

लंदन। कोरोना की मार झेल रही दुनिया भर को वैक्सीन आने से राहत मिली थी, लेकिन इसी बीच ब्रिटेन में कोरोना के नए स्वरुप के आने से देश में फिर से दहशत का माहौल बन गया है। कोरोना के इस नए रुप को देखते और इसके बढ़ते खतरों के कारण अस्पतालों में मरीजों के बढ़ती संख्या के मद्देनजर ब्रिटिश के पीएम बोरिस जॉनसन ने इंग्लैंड में फिर से लॉकडाउन लगाने के फैसला पर मुहर लगा दि है। सोमवार को एक बार फिर से लाॅकडाउन लगा दिया है। बोरिस जॉनसन ने कहा कि हमने कोरोना के खिलाफ जंग में कम से कम फरवरी के मध्य तक नया स्टे ऑन होम लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है ताकि घातक कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन को ज्यादा फैलने से रोका जा सके।

साथ ही बोले कि पिछले साल जब से यह महामारी आई है यूनाइटेड किंगडम पूरी तरह से कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने के प्रयास में लगा हुआ है, इसमें कोई संदेह नहीं है कि पुराने वायरस के खिलाफ लड़ाई में हमारे सामूहिक प्रयास काम कर रहे हैं और हम इसे लागातर जारी रखेंगे। मगर अब हमारे सामने कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन है जो पिछले वायरस की तुलना में ज्यादा संक्रामक और खतरनाक है, जो तेजी से फैल रहा है। जॉनसन ने कहा कि लोगों को एक बार फिर से घर पर रहने कि जरुरत है।

क्योंकि इस समय नया वायरस काफी खतरनाक तरीके से फैल रहा है। हमारे अस्पताल कोरोना के नए वायरस की वजह से बहुत अधिक अंडर प्रेशर में हैं और महामारी के बाद ऐसा पहली बार है। उन्होंने बताया कि मंगलवार से स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी बंद रहेंगे और ये सभी ऑनलाइन ही चलेंगे। सिर्फ आवश्यक वस्तुओं के लिए ही लोग घरों से बाहर जा सकेंगे।पीएम बोरिस ने सोमवार रात को देश को संबोधित करते हुए कहा कि जिस तरह नए संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, इग्लैंड में हमें एक राष्ट्रीय लॉकडाउन की जरूरत है, क्योंकि कोरोना के नए स्ट्रेन के खिलाफ यह कठोर कदम पर्याप्त है।

 

Gyan Dairy

 

 

Share