ब्रिटेन में फैल रहा है कोरोना का नया स्‍ट्रेन, भारत ने लगाई सभी विमानो पर रोक

नई दिल्‍ली: चीन से फैले कोरोना वायरस ने पूरी ​दुनिया में तबाही मचा दी, धीरे धीरे कोरोना का संक्रमण कम हुआ तो लोगों को लगा कि अब शायद इस वायरस की क्षमता कम हो गयी है लेकिन एकबार फिर कई देशों में कोरोना संक्रमण ने तेजी से रफ्तार पकड़ ली है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्‍ट्रेन मिलने के बाद दुनिया के कई देशों ने वहां की फ्लाइट्स पर पाबंदी लगा दी है, जिसके बाद अब भारत सरकार ने भी बड़ा कदम उठाते हुए यूके से आने वाली सभी उड़ानों पर 31 दिसंबर तक रोक लगा दी गई है।

केंद्र ने कहा, “ब्रिटेन में मौजूदा स्थिति को देखते हुए भारत सरकार ने निर्णय लिया है कि ब्रिटेन से भारत आने वाली सभी उड़ानों को 31 दिसंबर तक स्थगित कर दिया जाएगा। भारत से यूके जाने वाली उड़ानें भी इस अवधि के दौरान अस्थायी रूप से निलंबित रहेंगी।”

कल आधी रात से पहले आने वाली ब्रिटेन की उड़ानों के यात्रियों को हवाई अड्डों पर आरटी-पीसीआर परीक्षण से गुजरना होगा। कोविड-19 पर एक संयुक्त निगरानी समूह ने आज सुबह यूके में तेजी से फैलने वाले नए कोरोना वायरस पर चर्चा करने के लिए मुलाकात की थी।

कनाडा, सऊदी अरब और कई यूरोपीय देशों ने नए कोरोना वायरस के कारण यूके से उड़ानों को पहले ही निलंबित कर चुके हैं। माना जाता है कि कोरोना का यह नया रूप 70 प्रतिशत अधिक तेजी से संक्रामक फैलाता है।

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि सरकार नए तनाव को लेकर पूरी तरह से सतर्क है और उन्‍होंने जोर देकर कहा कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, “यूके में कोरोना वायरस का नया रूप मिला हुआ है, जो एक सुपर-स्प्रेडर है। मैं केंद्र सरकार से ब्रिटेन से तुरंत सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने का आग्रह करता हूं। कल से ब्रिटेन से उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने के लिए कॉल आए थे।”

नए वायरस का पहली बार दक्षिण-पूर्व इंग्लैंड में सितंबर में पता चला था। यह लंदन और यूके के अन्य हिस्सों में तेज़ी से फैल रहा है। संक्रमण की संख्या और ताज़ा प्रतिबंधों को आगे बढ़ाते हुए क्रिसमस के उत्सव पर काले बादल छाए हुए हैं।

Gyan Dairy

रविवार को, ब्रिटिश स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने कहा नया संस्करण नियंत्रण से बाहर है। इटली ने एक मरीज में नया वायरस रिपोर्ट किया गया है, जो हाल ही संक्रमित होकर यूके से लौटा था।

नए वायरस ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों को ऐसे समय में टेंशन में ला दिया है, जब ब्रिटेन और संयुक्त राज्य अमेरिका सहित कई राष्ट्रों ने महामारी से लड़ने के लिए कोविड टीकों को मंजूरी दे दी है।

यूरोपीय संघ के विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना वायरस के खिलाफ मौजूदा टीके नए वायरस के खिलाफ प्रभावी हैं।

भारत के कोरोना वायरस मामलों ने शनिवार को एक करोड़ का आंकड़ा पार किया। पिछले 24 घंटों में 24,337 नए मामलों ने टैली को 1,00,55,560 पर पहुंचा दिया है। कोरोना के कारण देश में अब तक 1.45 लाख से अधिक लोगों की मौत हो गई है।

दुनिया भर में 7.68 करोड़ से अधिक मामले सामने आए हैं, जबकि 16.9 लाख लोग मारे गए हैं।

Share