blog

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर चलेगा देशद्रोह का मुकदमा, केजरीवाल सरकार ने दी मंजूरी

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर चलेगा देशद्रोह का मुकदमा, केजरीवाल सरकार ने दी मंजूरी
Spread the love

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में देश विरोधी नारे लगाए जाने के मामले में शुक्रवार को दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केजरीवाल सरकार ने जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार समेत दस अन्य आरोपियों के खिलाफ देशद्रोह का मामला चलाने के लिए दिल्ली पुलिस को अनुमति दे दी है। यह मामला 13 माह से दिल्ली सरकार के पास लंबित था।

वहीं, अब केजरीवाल सरकार की मंजूरी के बाद कन्हैया कुमार पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जायेगा। इस मामले में दिल्ली सरकार ने उमर खालिद, अनिर्बान, आकिब हुसैन, मुजीब, उमर गुल, बशरत अली और खालिद बसीर पर भी राजद्रोह का मुकदमा चलाए जाने की मंजूरी दी है।

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार पर वर्ष 2016 में जेएनयू परिसर में लगे भारत विरोधी नारे और नफरत फैलाने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने सालभर पहले आरोपत्र दाखिल किया था। कन्हैया कुमार पर देशद्रोह समेत 8 धाराएं लगाई गई हैं। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मामले की जांच की थी, लेकिन दिल्ली सरकार ने चार्जशीट दाखिल करने संबंधी फाइल पर अनुमति नहीं दी थी।

अनुमति मिलने के बाद कन्हैया पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाएगा। गौरतलब है कि जेएनयू के पूर्व छात्र कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य सहित अन्य के खिलाफ आरोप है कि नौ फरवरी 2016 को जेएनयू परिसर में हुए कार्यक्रम में इन्होंने एक जुलूस की अगुवाई की और देशद्रोही नारे लगाए।

You might also like