UA-128663252-1

भारत ने चीन को दिया बड़ा झटका, एयरकंडीशनर के आयात पर लगाई रोक

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच जबसे सीमा पर तनाव हुआ है तबसे भारत चीन पर कई तरह की पाबंदिया लगा चुका है, हाल ही में कई चीनी मोबाईल ऐप पर भी बैन कर दिया गया था। वहीं अब मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुये रेफ्रिजरेटर वाले एयर कंडीशनर के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार ने इस आदेश को फौरन लागू करने के लिये नोटिफिकिशन भी जारी कर दिया। स्पिलट और विडो, दोनों तरह के रेफ्रिजरेटर वाले एयर कंडीशनर पर ये बैन लागू होगा।

अब तक ऐसे एयर कंडीशनर की आयात की पूरी छूट थी। लेकिन वाणिज्य मंत्रालय ने अधिन डाइयेकट्रोट जनरल फॉर फॉरेन ट्रेड ने पूरी तरह रेफ्रिजरेटर वाले एयर कंडीशनर को प्रतिबंधित श्रेणी में डाल दिया गया है।

वहीं केंद्र सरकार के इस फैसले का बड़ा फायदा घरेलू एयरकंडीश्नर कंपनियों को मिलेगा। आत्मनिर् अभियान के तहत एयरकंडीश्नर के उत्पादन में भारत को आत्मनिर्भर बनाने में मदद मिलेगी। वहीं जानकारों के मुताबिक रेफ्रिजरेटर वाला एसी पर बैन लगाने का फैसला सरकार के रडार पर था क्योंकि इनसे क्लोरोफ्लोरोकार्बन निकलता है जो पर्यावरण के लिए बेहद नुकसानदायक है।

Gyan Dairy

भारत में बीते वर्ष 4200 से 4500 करोड़ रुपये का रुम एयरकंडीश्नर आयात किया गया था। इतना ही वैल्यु का एसी निर्माण में लगने वाले कॉमपोनेंट भी आयात किया गया। इस अप्रैल-जुलाई के 158.87 मिलियन डॉलर के एसी का आयात किया जिसमें से चीन और थाईलैंड का हिस्सा 97% ($154.85 मिलियन) से अधिक है। जाहिर है रेफ्रिजरेटर वाले एयर कंडीशनर के आयात पर प्रतिबंध के फैसले का बड़ा झटका चीन को लगा है।

Share