पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को दी जा रही अंतिम विदाई, लोधी श्मशान घाट में होंगे पंचतत्व मे विलीन

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का लंबी बीमारी के चलते सोमवार की शाम आर्मी अस्पताल में निधन हो गया था। बता दें कि उन्हे बीते 10 अगस्त को सेना के ‘रिसर्च एंड रेफ्रल हास्पिटल’ में भर्ती कराया गया था। उसी दिन उनके मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी। उसके बाद वह काफी दिनों तक सेना के अस्पताल में कोमा में थे। मुखर्जी को बाद में फेफड़ों में संक्रमण हो गया। वह 2012 से 2017 तक देश के 13वें राष्ट्रपति थे। आज उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। केंद्र सरकार ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर सोमवार को सात दिन के राजकीय शोक की घोषणा की। उनके सम्मान में भारत में 31 अगस्त से लेकर छह सितंबर तक राजकीय शोक रहेगा।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का पार्थिव शरीर उनके सरकारी आवास राजाजी मार्ग लाया गया है जहां सुबह से ही लोग श्रद्धांजलि देने आ रहे हैं। कुछ देर में राष्ट्रपति, मोदी समेत दिग्गज नेता भी श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचेंगे। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के सम्मान में केंद्र सरकार ने 7 दिवसीय राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है, जिसके बाद आज राष्ट्रपति भवन और संसद भवन के झंडे को झुका दिया गया है। माना जा रहा है कि प्रणब मुखर्जी का आज दिल्ली में दोपहर 2.30 बजे लोधी श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार किया जाएगा।

Gyan Dairy
Share