डीयू में चलेंगी ऑनलाइन कक्षाएं, प्रयोगात्मक कार्यों के लिए आना पड़ेगा विभाग,जानें ताजा अपडेट

नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन परास्नातक के छात्रों के लिए योजनाबद्ध तरीके से प्रयोगात्मक कार्यो के लिए दिल्ली और उससे बाहर के छात्रों को बुलाने की तैयारी में लगा हुआ है। डीयू ने बताया कि, कक्षाएं ऑनलाइन तरीके से ही चलेंगी और प्रयोगात्मक कार्यों के लिए छात्रों को विश्वविद्यालय चरणबद्ध तरीके से बुलाया जाएगा। इसके लिए विभाग कोरेाना टास्क फोर्स का गठन करने और सभी संभावनाओं को तलाशेंगे का काम करेंगे।

इसके लिए डीयू प्रशासन ने मंगलवार को प्रधानाचार्या के साथ बैठक के बाद बुधवार को डीन और विभागाध्यक्षों के साथ ऑनलाइन बैठक के दौरान फैसला किया। डीयू के डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर प्रो.राजीव गुप्ता के अनुसार, यह किसी भी तरह छात्रों के लिए बाध्यकारी नहीं होगा। इसका फैसला छात्रों पर छोड़ा गया है, की उन्हें विश्वविद्याल आना है कि नहीं। इसके लिए उपस्थिति दर्ज होना भी बाध्यकारी नहीं किया जाएगा। इसके साथ ही 1 फरवरी से 31 मार्च के बीच प्रयोगात्मक कार्यों के लिए छात्रों को सरकारी दिशा निर्देशों के तहत बुलाए जाने का आदेश भी दिया गया है। यूजीसी के 5 नवंबर के दिशा निर्देश के बारे में भी विभागाध्यक्षों को बताया गया है।

 

Gyan Dairy

 

Share