PM मोदी ने अंडमान निकोबार को दिया बेहद खास तोहफा, हाईस्पीड इंटरनेट प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया

PM नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अंडमान-निकोबार को सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल की सौगात दी। पीएम मोदी ने इस संबंध में कहा, आज की तारीख अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के लोगों के लिए खास दिन है। इस केबल के लगने के बाद यहां हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी होगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘आज, 10 अगस्त अंडमान और निकोबार द्वीप समूह की मेरी बहनों और भाइयों के लिए एक विशेष दिन है। आज सुबह 10:30 बजे, चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर को जोड़ने वाली पनडुब्बी ऑप्टिकल फाइबर केबल (ओएफसी) का उद्घाटन किया जाएगा।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां कहा कि करीब डेढ़ साल में इसका काम पूरा कर दिया गया है। 15 अगस्त के जश्न से पहले ये लोगों के लिए ये उपहार है। पीएम ने कहा कि समुद्र में सर्वे किया गया, केबल को बिछाना और उसकी क्वालिटी मेंटेन करना आसान नहीं था। बरसों से इसकी जरूरत थी लेकिन काम नहीं हो पाया।

Gyan Dairy

एक अन्य ट्वीट में पीएम मोदी ने कहा, ‘अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में पनडुब्बी ऑप्टिकल फाइबर केबल का उद्घाटन सुनिश्चित करता है: हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी। तेज और विश्वसनीय मोबाइल और लैंडलाइन दूरसंचार सेवाएं। स्थानीय अर्थव्यवस्था को बड़ा बढ़ावा। ई-गवर्नेंस, टेलीमेडिसिन और टेली-शिक्षा का वितरण।’

इससे पहले, पीएम ने रविवार को ऑप्टिकल फाइबर पर जानकारी देते हुए कहा था कि यह सुनिश्चित करना है कि अंडमान व निकोबार को बाहरी दुनिया से वर्चुअल तरीके से जुड़ने में कोई परेशानी न हो। उन्होने आगे कहा कि अंडमान और निकोबार भारत सरकार के ‘आत्मनिर्भर भारत’ कार्यक्रम में अहम भूमिका अदा करेंगे।

पीएम ने भाजपा कार्यकर्ताओं से बात करते हुए कहा, यह द्वीप समूह रणनीतिक तौर पर काफी अहम है और वैश्विक समुद्री व्यापार का अहम केंद्र बन सकता है। केंद्र सरकार इसे ‘ब्लू इकोनॉमी हब’ और समुद्री स्टार्ट अप के लिए अहम स्थान बनाने के लिए काम कर रही है।

पीएम ने कहा कि क्षेत्र में समुद्री आधारित, जैविक और नारियल आधारित उत्पादों के व्यापार को बढ़ावा देने के लिए अंडमान और निकोबार के 12 द्वीपों को उच्च प्रभाव वाली परियोजनाओं के लिए चुना गया है।

यह क्षेत्र केंद्र सरकार के ‘आत्मनिर्भर भारत’ और नए भारत की तरक्की में अहम भूमिका निभाएगा। पोर्ट ब्लेयर एयरपोर्ट के विस्तार और हवाई संपर्क को बढ़ावा देने की परियोजनाओं का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, क्षेत्र में 300 किलोमीटर का हाईवे रिकॉर्ड टाइम में बनकर तैयार हो जाएगा।

Share