राजनाथ सिंह राज्यसभा में बोले- सुधर जाए ड्रैगन, नहीं तो उठाएंगे सख्त कदम

नई दिल्ली। संसद के मानसून सत्र के चौथे दिन गुरुवार को एलएसी पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यसभा में सख्त होकर कहा कि एलएसी पर तनाव रहते रिश्ते सामान्य नहीं हो सकते।
रक्षा मंत्री ने कहा कि हम देश का मस्तक झुकने नहीं देंगे। हालांकि हमारा मकसद किसी का मस्तक झुकाना भी नहीं है।

राज्यसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हम लद्दाख में एक चुनौतीपूर्ण दौर से गुजर रहे हैं। लेकिन हम ये भरोसा दिलाते हैं कि हमारे वीर जवान इस चुनौती पर खरे उतरेंगे। उन्होंने कहा कि मैं सदन से अनुरोध करता हूं कि हम एक ध्वनि से अपनी सेनाओं की बहादुरी और उनके अदम्य साहस के प्रति सम्मान प्रदर्शित करें। इस सदन से दिया गया, एकता व पूर्ण विश्वास का संदेश, पूरे देश और पूरे विश्व में गूंजेगा, और हमारे जवान जो कि चीनी सेनाओं से आंख से आंख मिलाकर अडिग खड़े हैं, उनमें एक नए मनोबल, ऊर्जा व उत्साह का संचार होगा।

Gyan Dairy

रक्षा मंत्री ने कहा कि शांति बहाल करने के लिए कई समझौते किए गए, लेकिन चीन औपचारिक सीमाओं को नहीं मानता। बॉर्डर पर अगर तनाव जारी रहेगा तो द्विपक्षीय रिश्तों पर इसका सीधा असर पड़ेगा। चीन की कथनी और करनी में फर्क है। चीन ने यथास्थिति को बदलने की कोशिश की। हमारी सेनाओं के चीन के मंसूबों को विफल कर दिया और उसे भारी नुकसान पहुंचाया।

Share