अवैध कब्जों के खिलाफ लखनऊ के बिल्डरों पर हुई कड़ी कार्रवाई, जानें खबर

लखनऊ। युपी की राजधानी लखनऊ में जिला प्रशासन व एलडीए की संयुक्त टीम ने मलेसेमऊ बार्डर पर गोमती नदी किनारे पड़ी 90 एकड़ जमीन पर हुए अवैध कब्जे को खाली कराया। डीएम सर्किल रेट के हिसाब से जमीन की कीमत 450 करोड़ रुपए है। जब की प्राइम लोकेशन पर होने की वजह से इसकी बाजारू कीमत 1000 करोड़ से ज्यादा है। प्राधिकरण ने जमीन पर अपना कब्जा ले लिया है। इस पर एक्सला सहित कई बिल्डरों ने कब्जा कर निर्माण शुरू करा दिया था।

लखनऊ विकास प्राधिकरण ने इस जमीन का अधिग्रहण अपनी गोमती नगर विस्तार सेक्टर 7 योजना के लिए किया था। इस जमीन पर कुछ बिल्डरों ने अवैध रूप से कब्जा किया था। उक्त जमीन मलेसेमऊ गांव की है। जमीन प्राधिकरण के नाम दर्ज है तथा पुलिस मुख्यालय से आगे गोमती नदी के किनारे काफी प्राइम लोकेशन पर है। जमीन पर लंबे समय से कुछ किसानों द्वारा खेती की जा रही थी। बिल्डरों ने इस जमीन के चारों तरफ से बाउंड्री वाल बनाकर इसे अपने कब्जे में कर लिया था। इसमें निर्माण शुरू करा दिया था। जिसे अब हटाया गया है।

Gyan Dairy
Share