कावंड़ यात्रा के परमिशन पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, योगी सरकार को भेजा नोटिस

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने कांवड़ यात्रा की अनुमति दी है, ज​बकि पड़ोसी राज्य उत्तराखंड ने कांवड़ यात्रा को इस साल स्थगित कर दिया है। यूपी सरकार के निर्णय पर सुप्रीम कोर्ट ने नाराजगी जताई है। इसके साथ ही इस मामले का स्वत: संज्ञान लिया है। इसको लेकर शीर्ष अदालत ने यूपी सरकार को नोटिस जारी कर कांवड़ यात्रा को परमिशन दिए जाने को लेकर जवाब मांगा है।

जस्टिस आरएफ नरीमन की अध्यक्षता वाली पीठ ने  केंद्र और यूपी को नोटिस जारी किया। मामले की अगली सुनवाई शुक्रवार यानी 16 जुलाई को होगी। जस्टिस आर.एफ. नरीमन ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि हमने परेशान करने वाली खबर पढ़ी है कि यूपी सरकार कांवड़ यात्रा को मंजूरी दे रही है, जबकि उत्तराखंड सरकार ने इस पर रोक लगाई है।

शीर्ष अदालत ने यूपी, उत्तराखंड और केंद्र सरकार से इस मामले पर शुक्रवार सुबह तक जवाब मांगा है। अदालत ने कहा कि 25 जुलाई से कांवड़ यात्रा की शुरुआत होनी है। ऐसे में इस अहम मुद्दे पर जल्दी सुनवाई होना जरूरी है।

Gyan Dairy

 

Share