blog

भूल कर भी नवरात्र में न करें ये 10 काम!

Spread the love

नवरात्रि मां जगदंबा की आराधना का विशेष पर्व हैं। ये शक्ति की आराधना करने का उत्सव होता है। नौ दिनों तक मां के नौ स्वरुपों की पूजा की जाएगी, मां की भी विशेष कृपा इस दौरान अपने भक्तों पर होती है। व्रत, पूजा पाठ का माहैल होगा। मां दुर्गा की भक्ति में डूबे भक्त नौ दिन तक उपवास करेंगे। मां की मूर्ति की स्थापना की जाएगी, कलश स्थापित होगा। लेकिन इन नौ दिनों में उन कार्यों और गतिविधियों से दूर रहना चाहिए जो मां दुर्गा को अप्रसन्न कर सकते हैं ,इन चीजों का इस्तेमाल नवरात्र में भूल कर भी नही करना चाहिए।  नवरात्रि में मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए बचे इन 9 गलतियों से

नवरात्री व्रत में किन बातों का रखे खास ख्याल…

  • एक घर में तीन शक्तियों की पूजा नहीं करनी चाहिए। विवाह में विलंब : विवाह योग्य कन्याओं के लिए नवरात्रि की षष्ठी तिथि है खास
  • महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान 7 दिन पूजन नहीं करना चाहिए।
  • नवरात्रि में नौ दिन का व्रत रखने वालों को इस व्रत के दौरान दाढ़ी-मूंछ और बाल नहीं कटवाने चाहिए।
  • काले रंग के कपड़े पहनने से बचना चाहिए. व्रत में खाने में अनाज और नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • व्रती को नौ दिनों तक नाखून नहीं काटने चाहिए. कलश स्थापना करने या अखंड दीप जलाने वालों को नौ दिनों तक अपना घर खाली नहीं छोड़ना चाहिए। इन रामबाण उपायों से प्रसन्न होंगी मां दुर्गा, बनेंगे हर बिगड़े काम…
  • नवरात्र में किसी की निंदा, चुगली , किसी को अपशब्द, किसी के साथ विवाद नहीं करना चाहिए। इससे शरीर की सात्विक शक्ति का नाश होता है।
  • संभव हो तो इस दौरान छौंक नहीं लगाना चाहिए। इस दौरान सात्विक भोजन करना चाहिए और वह भी भूख से कम करें।
  • नौ दिन प्याज, लहसुन आदि का पूर्णतः त्याग करना चाहिए। तेज और तीखे मसाले, मांसाहार, मदिरा आदि तामसिक प्रकृति के पदार्थ माने जाते हैं। इनसे सदैव दूर रहना चाहिए। जानिए, नवरात्री के 9 दिनों में किस दिन कौन सी चीज का दान करें
  • कलश स्थापना करने या अखंड दीप जलाने वालों को नौ दिनों तक अपना घर खाली नहीं छोड़ना चाहिए।
  • नवरात्र का व्रत करने वालों को पूजा के दौरान बेल्ट, चप्पल-जूते या फिर चमड़े की बनी चीजें नहीं पहननी चाहिए।

You might also like