UA-128663252-1

सेंट्रल बैंक ने सस्ता किया कर्ज का ब्याज, कम हो जाएगी लोन की EMI

देश के ज्यादातर बैंक अब ग्राहकों की सुविधा के लिए लोन की ब्याज दर को कम कर रहे हैं. प्रमुख सरकारी बैंकों में शुमार सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank Of India) ने भी लोन की ब्याज दरों में कटौती का ऐलान कर दिया है. इससे बैंक के वो ग्राहक जिन्होंने होम या ऑटो लोन लिया है, उन पर ईमआई का बोझ कम हो जाएगा.

इतनी घटाई ब्याज दर

बैंक ने सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट्स- MCLR) 0.05 फीसदी घटा दी है. एक साल के एमसीएलआर (MLCR) 7.15 फीसदी से कम कर 7.10 फीसदी कर दिया है. यह कटौती सभी तरह के कर्ज के लिए की गई है. नई ब्याज दरें मंगलवार, 15 सितंबर से लागू होंगी.

इन बैंकों ने घटा दी है ब्याज दरें

Gyan Dairy

पिछले सप्ताह यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ( 0.05 प्रतिशत), इंडियन ओवरसीज बैंक (0.10 प्रतिशत) और बैंक आफ महाराष्ट्र ( 0.10 प्रतिशत) ने भी एमसीएलआर में कटौती की थी.

क्या होता है MCLR

मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) भारतीय रिजर्व बैंक का एक सिस्टम है जो कॉमर्शियल बैंक द्वारा ऋण ब्याज दर तय करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. बैंक से कर्ज लेने पर ब्याज की दर तय करने के लिए अप्रैल, 2016 में आरबीआई ने एमसीएलआर की शुरुआत की थी. MCLR की वजह से लोगों को बैंकों से लोन लेना आसान हो गया है.

Share