पीएम किसान योजना कि किस्त ना मिलने पर फौरन करें चेक, जानें खबर

नई दिल्ली। पीएम किसान सम्मान निधि की सातवीं किस्त के रूप में पीएम नरेंद्र मोदी ने 25 दिसंबर को 9,06,22,972 किसानों के खाते में 2000 रुपये की सातवीं किस्त भेजकर किसानों को बड़ा तोहफा दिया हैं। मौजूदा समय में पीएम किसान सम्मान निधि के 11 करोड़ 45 लाख लाभार्थी इसका लाभ उठा चुके हैं। यानी 2 करोड़ 40 लाख किसानों के खातों में यह रकम अभी तक नहीं पहुंची है। अगर आपके खाते में किस्त नहीं आई तो पहले उसकी वजह जान लें और फिर घर बैठे ही उसे दूर कर लें ताकि सातवीं किस्त आपके खाते में आसानी से पहुंच जाए।

फंड ट्रांसफर ऑर्डर जनरेट होने के बावजूद भुगतान फेल होने की सबसे बड़ी वजह यह है कि, आवेदन में लिखा गया नाम आधार से मैच नहीं कर रहा या बैंक अकाउंट से नाम नहीं मिल रहा। किसी ने आधार नंबर सही नहीं डाला है या बैंक का आईएफएससी कोड में गलती कर रखी है। आवेदनकर्ताओं के नाम, मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी हुई है। अगर आवेदन के बाद भी आपके बैंक अकाउंट में पैसे नहीं आए हैं तो आवेदक अपना खाता चेक करें इसके लिए आप घर बैठे अपने मोबाइल से ही ठीक कर सकते हैं,गलतियां सुधारने के लिए पहले वेबसाइट (https://pmkisan.gov.in/) पर जाएं। इसके फार्मर कॉर्नर के अंदर जाकर Edit Aadhaar Details ऑप्शन पर क्लिक करके यहां पर अपना आधार नंबर दर्ज करें।

Gyan Dairy

इसके बाद एक कैप्चा कोड डालकर उसे सबमिट करें। अब केंद्र और राज्य सरकार फर्जीवाड़ा करने वाले किसानों से पैसे वसूलने की तैयारी कर रही है। महाराष्ट्र में इनकम टैक्स चुकाने वाले लाखों किसानों को पीएम किसान सम्मान योजना के तहत सालाना 6000 रुपये दे दिए गए। जबकि, इस योजना का लाभ केवल वही किसान उठा सकते हैं,

Share