लगातार 10वें दिन बढ़े सोने के दाम, चांदी की कीमतें घटी

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में सोने की बढ़ती कीमतों का असर भारतीय सर्राफा बाजार में भी देखने को मिल रहा है। अब सोने का हर दिन नया शिखर छूना आम हो गया है। आज भारतीय बाजारों में सोने की कीमत लगातार 10वें दिन बढ़ी। देशभर के सर्राफा बाजारों में आज 24 कैरेट सोना औसतन 341 रुपये उछलकर 53354 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव से खुला। बुधवार को यह 53013 पर बंद हुआ था। वहीं दिल्ली सर्राफा बाजार में यह 54000 के पार चला गया है। जबकि, आज चांदी 1040 रुपये प्रति किलोग्राम सस्ती होकर 63260 के रेट से खुली। बुधवार को चांदी 64300 रुपये प्रति किलो पर बंद हुई थी।

पिछले सत्र में, सोना 1.4 फीसदी यानी 730 रुपये प्रति 10 ग्राम बढ़ गया था और 53,399 रुपये के नए उच्च स्तर पर पहुंच गया था। चांदी की कीमत 0.5 फीसदी बढ़ी थी।

श्विक बाजारों में, लगातार नौ दिनों की बढ़त के बाद सोने की की कीमत आज कम हुई। हाजिर सोना 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 1,965.90 डॉलर प्रति औंस पर रहा। जबकि मंगलवार को कीमतें 1,981 डॉलर के उच्च स्तर पर थी। अन्य कीमती धातुओं में चांदी 0.2 फीसदी की गिरावट के साथ 24.2614 डॉलर प्रति औंस रह गई।

इसलिए बढ़ी कीमत
इस वर्ष अब तक वैश्विक बाजारों में सोने की कीमत लगभग 30 फीसदी बढ़ गई है। कमजोर डॉलर, कम ब्याज दर और कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के कारण धातु की मांग बढ़ी है। अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों को शून्य के पास अपरिवर्तित रखने की घोषणा की और आर्थिक सुधार के लिए अपने सभी साधनों का उपयोग करने को कहा, जिससे सोने की कीमतों को समर्थन मिला। विश्लेषकों ने अधिक प्रोत्साहन की उम्मीद जताई और कहा कि इसकी वजह से सोने में तेजी बरकरार रहेगी। गोल्डमैन सैक्स ने 2,300 डॉलर प्रति औंस की वृद्धि का अनुमान लगाया है।

Gyan Dairy

अमेरिकी ब्याज दरों के शून्य पर रहने से डॉलर पर दबाव डला और यह यूरो के मुकाबले दो साल का निचले स्तर पर चला गया। व्यापक प्रसार के बाद सोने को मुद्रास्फीति और मुद्रा की दुर्बलता के खिलाफ एक बचाव का विकल्प माना जाता है। कम ब्याज दर सोने का समर्थन करते हैं क्योंकि यह गैर-उपज धातु को धारण करने की अवसर लागत को कम करता है।

निवेश में बढ़ोतरी
दुनिया के सबसे बड़े स्वर्ण-समर्थित एक्सचेंज ट्रेडेड फंड या गोल्ड ईटीएफ की होल्डिंग एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट ने कहा कि इसी दौरान सोने में निवेश और बढ़ा है। उसकी होल्डिंग सात साल के उच्चतम स्तर पर है।

Share