लगातार पांचवे दिन बाजार में तेजी बरकरार, 552 अंक उछला सेंसेक्स

नई दिल्ली। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान ट्रम्प और जो बाइडन के बीच जारी कश्मकश के बीच अच्छे वैश्विक संकेतों और रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी तथा टीसीएस जैसे बड़े शेयरों में बढ़त के चलते आज दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शेयर बाजार बढ़त पर बंद हुआ। शुक्रवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 1.34 फीसदी की तेजी के साथ 552.90 अंक ऊपर 41893.06 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 1.18 फीसदी (143.25 अंक) की बढ़त के साथ 12263.55 के स्तर पर बंद हुआ। सूचकांक ने वर्ष 2020 में हुए पूरे नुकसान की भरपाई कर ली है। यह एक जनवरी 2020 को 41,306.02 पर बंद हुआ था। विश्लेषकों के अनुसार, आगे बाजार में उतार-चढ़ाव जारी रहेगा। इसलिए निवेशकों को सावधानी बरतनी चाहिए।

विदेशी पोर्टफोलियो निवेश में तेजी के चलते रुपया शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 28 पैसे की तेजी के साथ 74.08 (अनंतिम) के स्तर पर बंद हुआ। कारोबारियों ने कहा कि शेयर बाजार में बढ़त, डॉलर की कमजोरी और अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडेन के जीतने की उम्मीदों के चलते स्थानीय मुद्रा को समर्थन मिला। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.99 पर खुला, और दिन के कारोबार के दौरान 73.87 के ऊपरी स्तर और 74.28 के निचले स्तर को छूने के बाद अंत में डॉलर के मुकाबले 74.08 के स्तर पर बंद हुआ। इस तरह रुपये ने पिछले बंद भाव के मुकाबले 28 पैसे की बढ़त दर्ज की।

Gyan Dairy

रुपया गुरुवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 40 पैसे मजबूत होकर 74.36 पर बंद हुआ था। इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.02 फीसदी गिरकर 92.50 पर था। शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने गुरुवार को 5,368.31 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा एक फीसदी गिरकर 40.52 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

Share