पेटीएम लाएगा सबसे बड़ा आईपीओ, बोर्ड ने दी मंजूरी, जानें खासियत

नई दिल्ली। डिजिटल पेमेंट की दुनिया में अपना सिक्का जमाने के बाद पेटीएम जल्द ही देश का सबसे बड़ा आईपीओ लॉन्च करने की तैयारी में है। माना जा रहा है कि पेटीएम अपने आईपीओ से सरकारी कम्पनी कोल इंडिया के आईपीओ को काफी पीछे छोड़ देगा। पेटीएम का मालिकाना हक रखने वाली कंपनी वन 97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड के बोर्ड ने आईपीओ लांच करने के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है। पेटीएम ने अपने कर्मचारियों और स्टेकहोल्डर्स को भेजे गए एक लेटर में यह जानकारी दी है। पेटीएम ने कहा है कि प्रस्तावित आईपीओ में कंपनी द्वारा इक्विटी शेयरों के नए निर्गम और मौजूदा शेयरधारकों द्वारा इक्विटी शेयरों की बिक्री की पेशकश शामिल करने पर विचार किया गया है।

कंपनी ने ड्राफ्ट एंड रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी) को भी अंतिम रूप दे दिया है, जिसे अगले महीने जुलाई 2021 में पूंजी बाजार नियामक सेबी के पास फाइल किया जा सकता है। अक्टूबर-दिसंबर 2021 तिमाही में पेटीएम आईपीओ के जरिए 22 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है। यह देश का सबसे बड़ा आईपीओ साबित होगा।

पेटीएम ने निवेशकों से कहा है कि शेयरों की पेशकश की गारंटी नहीं है कि उन्हें प्रस्ताव के माध्यम से बेचा जाएगा, क्योंकि यह प्रस्ताव के लिए निवेशक की प्रतिक्रिया पर निर्भर करेगा। पेटीएम कम से कम 3 बिलियन डॉलर की प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (आईपीओ) के दौरान प्राथमिक शेयर बिक्री के हिस्से के रूप में 1 से 1.5 बिलियन डॉलर जुटाने की सोच रही है।

Gyan Dairy

बता दें कि अब तक देश का सबसे बड़ा IPO सरकारी कंपनी कोल इंडिया का रहा है। 2010 में कोल इंडिया ने आईपीओ से 15,200 करोड़ रुपये जुटाए थे। इससे पहले अनिल अंबानी ग्रुप की कंपनी रिलायंस पावर 11 हजार करोड़ रुपये का आईपीओ लाई थी। गत वर्ष SBI पेमेंट एंड कार्ड ने 10 हजार करोड़ रुपये का IPO लॉन्च किया था।

Share