blog

जॉब चेंज करने पर पीएफ अकाउंट ट्रांसफर करने की टेंशन होगी ख़त्म

Spread the love

प्राइवेट नौकरी करने वालों के सामने पीएफ अकाउंट को लेकर हमेशा टेंशन होती है. खासकर जब वे जॉब चेंज करते हैं तो उनके सामने परेशानी और बढ़ जाती है, दिमाग में कई तरह की बातें चलने लगती है. पीएफ खाता ट्रांसफर कराऊं या पैसे निकालकर नई कंपनी में नया अकाउंट शुरू कर दूं. अगर पैसे निकालने हैं तो फॉर्म भरने से लेकर तमाम तरह की औपचारिकता पूरी करने में परेशानियां सामने आ जाती हैं. जल्द ही ये सारी टेंशन दूर होने वाली है. अगले महीने से नौकरी बदलते ही आपका पीएफ अकाउंट खुद-ब-खुद ट्रांसफर कर दिया जाएगा. मुख्य प्रोविडेंट फंड आयुक्त वी पी जॉय ने कहा कि यह सुविधा प्राइवेट कर्मचारियों की परेशानी को देखते हुए लिया गया है.

उन्होंने कहा कि जब भी कोई कर्मचारी जॉब चेंज करता है तो कई खाते बंद हो जाते हैं. बाद में उस कर्मचारी को दोबारा उसे चालू करवाना पड़ता है. अब एनरॉलमेंट के लिए आधार को अनिवार्य बना दिया गया है. इससे अकाउंट बंद नहीं होंगे. पीएफ अकाउंट एक पर्मानेंट अकाउंट है. कर्मचारी सामाजिक सुरक्षा के लिए एक ही अकाउंट को हमेशा रख सकते हैं.

खबर के मुताबिक वीपी जॉय ने कहा, ‘हम कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ईपीएफओ में कई तरह की पहल कर रहे हैं, ताकि प्रक्रियाओं को और आसान बनाया जा सके. उन्होंने कहा कि खातों का समय से पहले बंद होना उनकी प्रमुख चुनौतियों में से एक रहा और वे अपनी सेवाओं में सुधार के जरिए इस समस्या का समाधान करने की कोशिश में हैं.

पीएफओ ऐसी कोशिश कर रहा है कि जॉब बदलने की स्थिति में बिना किसी एप्लीकेशन के ही महज तीन दिनों में अकाउंट के पैसे ट्रांसफर हो जाएं. जॉय के मुताबिक, अगर कर्मचारी के पास आधार आईडी और वेरिफाइड आईडी होगा तो वह चाहे देश में किसी भी जगह जॉब करे, उसका पीएफ अकाउंट बिना एप्लीकेशन ट्रांसफर हो जाएगा.

You might also like