RBI ने बढ़ाई इंटरचेंज फीस, अब दूसरे बैंक के ATM से पैसा निकालना होगा महंगा

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने एटीएम से होने वाले वित्तीय लेनदेन पर इंटरचेंज फीस बढ़ा दी है। आरबीआई ने इंटरचेंज फीस 15 रुपये से बढ़ाकर 17 रुपये कर दी है। यह बढ़ी इंटरचेंज फीस 1 जनवरी 2022 से लागू होगी। आरबीआई ने हर महीने मिलने वाले मुफ्त एटीएम निकासी के बाद ग्राहकों पर लगने वाले शुल्क की अधिकतम सीमा 20 रुपये से बढ़ाकर 21 रुपये कर दी है। अभी तक बैंक ग्राहकों को हर महीने एटीएम से 5 बार मुफ्त निकासी की सुविधा देते हैं। इससे पहले अगस्त 2012 में एटीएम इंटरचेंज फीस में बदलाव किया गया था।

इसके साथ ही ग्राहकों पर लागू शुल्क में अगस्त 2014 में संशोधन किया गया था। ऐसे में समिति की सिफारिशों की पड़ताल के बाद इंटरचेंज फीस और कस्टमर शुल्क बढ़ाने का फैसला लिया गया है। आरबीआई ने बताया कि बैंकों व एटीएम ऑपरेटर्स पर पड़ने वाली एटीएम डिप्लॉयमेंट लागत और रखरखाव खर्च के साथ सभी हितधारकों व उपभोक्ता।ओं की सहूलियत को ध्यालन में रखते हुए ये फैसला लिया गया है। केंद्रीय बैंक ने गैर-वित्तीतय लेनदेन के शुल्क को 5 रुपये से बढ़ाकर 6 रुपये कर दिया है, जो 1 अगस्त 2021 से प्रभावी हो जाएगा।

Gyan Dairy

 

Share