Home NATIONAL कांग्रेस को लगा झटका, इस दिग्गज नेता ने पार्टी को कहा अलविदा

कांग्रेस को लगा झटका, इस दिग्गज नेता ने पार्टी को कहा अलविदा

42
0
Sunil Jhakhar,Congress
Sunil Jhakhar,Congress

चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता सुनील जाखड़ (Sunil Jhakhar) ने पार्टी को गुड बाय कह दिया है। पार्टी और सुनील जाखड़ के बीच पंजाब विधानसभा चुनाव से ही मनमुटाव की स्थिति बनी हुई थी। शनिवार को पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने फेसबुक लाइव करके पार्टी छोड़ने का ऐलान किया।

उन्होंने गुड बॉय कांग्रेस कहा और नसीहत दी कि इस तरीके से चिंतन शिविर लगाने से कुछ नहीं होगा। उन्होंने अपना दर्द जाहिर करते हुए कहा कि नोटिस उन लोगों को जारी करना चाहिए था जिन्होंने कांग्रेस का नुकसान किया है।

चिंतन शिविर सिर्फ औपचारिकता था

फेसबुक लाइव के दौरान सुनील जाखड़ (Sunil Jhakhar)  ने कहा कि कांग्रेस का चिंतन शिविर सिर्फ औपचारिकता था। कांग्रेस को चिंता शिविर की जरूरत है। यूपी चुनाव में 390 सीटों पर कांग्रेस पार्टी को दो हजार वोट मिले। गोवा-उत्तराखंड में सरकार के खिलाफ विरोध के बाद भी कांग्रेस जीत नहीं पाई। मैं मानता हूं कि कांग्रेस को इस पर सोचने की जरूरत है। इन खामियों के लिए मैं सिर्फ हाईकमान को जिम्मेदारी नहीं ठहरा रहा, इसमें और की भी कमियां रही हैं।

उन्होंने लाइव के दौरान राहुल की जमकर तारीफ की। उन्होंने राहुल गांधी को चापलूसों से सावधान रहते हुए पार्टी की कमान अपने हाथों में लेने की नसीहत दी। 

तीन पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या, सीएम ने की आश्रितों को एक करोड़ देने की घोषणा

इसके अलावा जाखड़ ने पंजाब प्रभारी रहे हरीश रावत पर निशाना साथा। जाखड़ अंबिका सोनी के “पंजाब का सीएम हिंदू होना चाहिए” वाले बयान पर भी जमकर बरसे।

2 साल के लिए पार्टी ने किया था सस्पेंड

बता दें कि AICC के अनुशासनात्मक पैनल ने 26 अप्रैल को सुनील जाखड़ (Sunil Jhakhar)  को 2 सालों के लिए पार्टी से सस्पेंड कर दिया था। उन्होंने पंजाब पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की आलोचना की थी और पंजाब में आम आदमी पार्टी से कांग्रेस की हार के बाद उन्हें पार्टी के लिए जिम्मेदार करार दिया था।

मुकेश मेश्राम सहित 3 IAS जाएंगे सेंट्रल डेपुटेशन में, दो को मिला एडिशनल चार्ज

Previous articleआधार को वोटर लिस्ट से जोड़ने का नियम जल्द होगा लागू, मुख्य निर्वाचन आयोग ने दी जानकारी
Next articleयूपी में टीकाकरण 32 करोड़ पार, सर्वाधिक टीकाकरण करने में यूपी नंबर वन