Home NATIONAL एक दिन में रिकॉर्ड तोड़ पोलियो के टीके 2012 में लगे, फिर...

एक दिन में रिकॉर्ड तोड़ पोलियो के टीके 2012 में लगे, फिर भी मनमोहन सिंह ने नहीं लगवाए अपने पोस्टर

460
0

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की पत्रकार वार्ता में कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि फरवरी 2012 में एक दिन में देश में पोलियो के सर्वाधिक टीके लगे थे, हालांकि तब और अब में फर्क है। सुरजेवाला ने आगे कहा- फर्क बस इतना है कि तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अपने पोस्टर नहीं लगवाए थे।

बीते दिन 80 लाख वैक्सीन लगाई गई, राहुल गांधी ने मोदी सरकार की तारीफ भी की और कहा कि ऐसा रोज करना होगा। बता दें कि फरवरी 2012 में पल्स पोलियो के तहत एक दिन में 17 करोड़ से अधिक बच्चों को पोलियो की दो बूंद दवा पिलाई गई थी।

बता दें कि आज कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कोरोना पर एक श्वेत पत्र जारी किया है। इस श्वेत पत्र में मोदी सरकार के लिए तीसरी लहर से निपटने के लिए एक विस्तृत रिपोर्ट तैयार की गई है। राहुल गांधी ने कहा कि देश में कोरोना की तीसरी लहर आने वाली है और इसके लिए सरकार को पहले से तैयार रहने की जरूरत है।

राहुल गांधी ने कहा कि हमने व्हाइट पेपर विस्तृत में तैयार किया है इसका लक्ष्य ये नहीं कि सरकार ने विभिन्न गलतियां की, बल्कि देश को तीसरी लहर के लिए तैयार करने में मदद करने के लिए है। देश में तीसरी लहर आने वाली है इसलिए हम सरकार से फिर कह रहें कि उनको इसके लिए पूरी तैयारी करनी चाहिए।

इसके अलावा राहुल गांधी ने कहा कि व्हाइट पेपर का लक्ष्य तीसरी लहर के लिए तैयारी है ताकि तीसरी लहर जब आए तब लोगों को आसानी से ऑक्सीजन, दवाईयां, अस्पताल में बेड मिल जाएं। कोरोना सिर्फ बायोलॉजिकल बीमारी नहीं है बल्कि इकोनॉमिकल सोशल बीमारी है इसलिए सरकार को गरीब लोगों को आर्थिक सहायता देनी की जरूरत है।

Previous articleभारत बायोटेक ने ‘कोवैक्सिन’ के तीसरे फेज के क्लिनिकल ट्रायल डेटा DCGI को सौंपा
Next articleडेब्यू टेस्ट में गांगुली के शानदार शतक को 25 साल पूरे, द्रविड़ ने भी इसी दिन किया था पदार्पण