पढ़ाई से लेकर अभिनय की दुनिया में ‘हीरो’ थे सुशांत, जानिए बचपन से लेकर अब तक का सफर

बॉलीवुड के उभरते सितारों में से एक एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने खुदखुशी कर ली है. रव‍िवार को घर में उनका शव पंखे से लटकता मिला. घर के नौकर ने फोन कर पुलिस को इसकी जानकारी दी. अभी तक उनके इस फैसले के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया है. सुशांत बॉलीवुड के बेहद लोकप्रिय एक्टर थे.

सुशांत सिंह राजपूत ने अपने करियर की शुरुआत टीवी एक्टर के तौर पर की थी. उन्होंने सबसे पहले ‘किस देश में है मेरा दिल’ नाम के धारावाहिक में काम किया था, लेकिन उन्हें पहचान एकता कपूर के धारावाहिक पवित्र रिश्ता से मिली. इसके बाद फिल्मों का सफर शुरू किया था. सुशांत सिंह जिस तरीके से हिंदी सिनेमा में मशहूर एक्टर थे, उसी तरह वह शिक्षा के क्षेत्र में भी टॉप पर रहे.

21 जनवरी 1986 को पैदा हुए सुशांत सिंह राजपूत ने बिहार की राजधानी पटना में सेंट करण हाई स्कूल और दिल्ली में कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल में शुरुआती पढ़ाई पूरी की थी.

एंट्रेंस में हासिल की थी 7वीं रैंक

Gyan Dairy

सुशांत सिंह राजपूत ने बताया था कि उन्होंने 2003 में दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के एंट्रेंस एग्जाम में सातवीं रैंक हासिल की थी. एंट्रेंस पास करने के बाद सुशांत सिंह राजपूत मैकेनिकल इंजीनियरिंग में दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में दाखिला लिया. वह फिजिक्स में नेशनल ओलंपियाड विजेता भी थे. बताया जाता है कि उन्होंने 11 इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम पास किए थे, जिसमें इंडियन स्कूल ऑफ माइंस का एंट्रेंस एग्जाम भी शामिल है.

थियटर और डांस प्रोग्राम में हिस्सा लेने के बाद उनके पास शायद ही कभी पढ़ाई के लिए समय बच पाता था. नतीजा यह हुआ कि इंजीनियरिंग में कई बैकलॉग लगे. बाद में उन्होंने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग (DCE) को छोड़ने का फैसला किया. एक्टिंग में करियर बनाने की चक्कर में सुशांत सिंह राजपूत चार साल के पाठ्यक्रम में सिर्फ तीन साल की पढ़ाई पूरी कर पाए.

सुशांत सिंह राजपूत पटना में पैदा हुए थे. लेकिन उनका पैतृक घर पूर्णिया जिले में था. उनकी एक बहन मितू सिंह स्टेट लेवर की क्रिकेटर रही हैं. उनकी मां का 2002 में निधन हो गया था.

Share