नितेश तिवारी : दंगल किसी कलाकार को ध्यान में रख कर नहीं लिखी गई थी

आमिर खान की फिल्म दंगल इसी महीने रिलीज होने वाली है. पिछले कुछ महीनों में दंगल के गानों और ट्रेलर से फिल्म के बारे में काफी कुछ पता चल चुका है.

तिवारी ने एक सामूहिक साक्षात्कार में संवाददाताओं से कहा, जब हमने इस फिल्म के लिए लिखना शुरू किया था तो कोई भी कलाकार ध्यान में नहीं था. किसी कलाकार को ध्यान में रखकर फिल्म की कहानी लिखने का कोई मतलब नहीं बनता, क्योंकि जब आप ऐसा करते हैं तो आप कलाकार से इस कदर प्रभावित हो जाते हैं कि उनकी ताकत व कमजोरियों के अनुसार पटकथा लिखने लगते हैं.

वहीं, इस फिल्म के निर्देशन करने वाले नितेश तिवारी का कहना है कि फिल्म की पटकथा किसी कलाकार को ध्यान में रखकर नहीं लिखी गई थी, बल्कि वह कभी किसी कलाकार को ध्यान में रखकर कोई पटकथा नहीं लिखते.

नितेश तिवारी ने कहा कि फिल्म की पटकथा पूरी करने के बाद महावीर सिंह फोगट की भूमिका के लिए जिस कलाकार का नाम उनके दिमाग में सबसे पहले आया वह आमिर खान ही हैं. उन्होंने कहा, पटकथा पूरी करने के बाद मैं रोनी स्क्रूवाला और सिद्धार्थ रॉय कपूर के पास गया. उन्होंने मुझसे पूछा कि मैं किसके साथ फिल्म करना चाहूंगा. मैंने ज्यादा समय न लेते हुए आमिर खान को इसके लिए चुना. मुझे नहीं लगता कि इसमें असहमति का कोई कारण था.

Gyan Dairy

गीता कॉमनवेल्थ में स्वर्ण पदक भी जीत चुकी हैं. फिल्म को लेकर आमिर पिछले दो सालों से महावीर फोगट के परिवार से जुड़े हुए हैं, इस दौरान वह परिवार के बेहद करीबी हो गए हैं. फिल्म 23 दिसंबर को रिलीज हो रही है.

बता दें, दंगल भारतीय खेल पर आधारित एक फिल्म है. इस फिल्म में आमिर ने पहलवान महावीर फोगट का किरकार निभाया है. महावीर फोगट की चार बेटियां हैं जिनमें गीता सबसे बड़ी हैं. महावीर फोगट ने अपनी बेटियों को पहलवानी सिखाई और आज उनकी बेटियां गीता और बबीता अंतरराष्ट्रीय कुश्ती चैम्पियन हैं.

Share