blog

रिलीज़ हुआ उस फिल्म का ट्रेलर, जिसे सेंसर बोर्ड आपको दिखाना ही नहीं चाहता था.

Spread the love

लंबे समय से चल रहे विवाद के बाद आखिरकार फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माय बुर्का’ 21 जुलाई को रिलीज़ होने जा रही है. यह वही फिल्म है, जिसे केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी या सेंसर बोर्ड) ने बैन कर दिया था. इसके बाद मेकर्स ने कोर्ट-कचहरी के चक्कर काटकर फिल्म को सर्टिफिकेट दिलाया. फिल्म का दूसरा ट्रेलर मंगलवार को जारी किया गया है. सवा दो मिनट का यह ट्रेलर उम्मीद से ज्यादा बोल्ड है, क्योंकि इसमें किसिंग सीन से लेकर बेडरूम सीन्स तक की भरमार हाै. शायद यही वजह थी कि सेंसर बोर्ड ने इसे पास करने से साफ इंकार कर, फिल्म को ‘असंस्कारी’ करार दिया था.

फिल्म की कहानी छोटे शहरों की चार महिलाओं पर आधारित है, जो आज़ादी की तलाश में है, लेकिन समाज इन्हें रोकने की कोशिश में लगा हुआ है. लेकिन ये चारों भी कम नहीं, जद्दोजहद कर समाज के बंधनों से मुक्त होने की लड़ाई लड़ती रहती हैं.

ट्रेलर को ध्यान से देखें, तो यह पुरुषवादी सोच पर कड़ी चोट करता है. बेशक ‘पारंपरिक’ सोच रखने वाला व्यक्ति इसे देखकर तिलमिला सकता है. शुरुआत में बैन हुई इस फिल्म का ट्रेलर कई सवाल भी उठाता है. ट्रेलर में एक्ट्रेस कहती है, अगर लड़की ने लिपस्टिक लगा ली, तो अफेयर हो जाएगा, अगर उसने जीन्स पहन ली, तो स्कैंडल हो जाएगा, ऐसा क्या हो जाएगा.? आप हमारी आजादी से इतना डरते क्यों हैं.?

You might also like