‘रामायण’ के सीता और रावण एक ही पार्टी से सांसद बनकर पंहुचे थे संसद भवन

नई दिल्ली। दूरदर्शन पर आने वाली रामानंद सागर द्वारा बनाई गयी रामायण धारावाहिक में सीता और रावण का किरदार निभाने वाले दीपिका और अर​विंद त्रिवेदी एक ही पार्टी से सांसद का चुनाव लड़कर सांसद बने और फिर एक साथ संसद पंहुचे थे। दीपिका चिखलिया ने इसे अपने सोशल मीडिया पर भी शेयर किया है। आइए जानते हैं…

न्यूप एजेंसी में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, उस दौर में जब भारत में टीवी का विस्तार हो रहा था, तब इस सीरियल को देखने वालों की संख्या 10 करोड़ थी। उस दौर में इतना क्रेज था कि लोगों के लिए रामायण में किरदार निभाने वाले एक्टर पूजनीय हो गए।

‘रामायण’ के इन किरदारों का राजनीति से भी कनेक्शन है। ऐसा कोई पहली बार नहीं है, जब पर्दे पर आने वाले एक्टर लोगों के बीच अपने लिए वोट मांगने जाए। सिनेमा जगत और राजनीति का अपना पुराना रिश्ता है। रामायण के फेमस एक्टर्स भी अपनी किस्मत चुनाव में आजमा चुके हैं।

Gyan Dairy

साल 1991 के आम चुनाव में रामायण के दो एक्टर दीपिका चिखलिया (सीता) और अरविंद त्रिवेदी (रावण) गुजरात के चुनावी मैदान में उतरे। दोनों को ही भारतीय जनता पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया। अरविंद, साबरकांठा सीट और दीपिका चिखलिया, बड़ौदा लोकसभा सीट से चुनाव जीतकर संसद पहुंचे। दीपिका ने हाल ही में एक तस्वीर भी शेयर की, जिसमें वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी के साथ चुनाव प्रचार में नज़र आ रही हैं। दीपिका ने इस चुनाव में 276,038 मत हासिल किये थे, जबकि उनके विरोधी कांग्रेस के उम्मीदवार को 241,850 वोट मिले थे।

Share