याद्दाश्त मजबूत करनी हो तो शहद के साथ खायें काली मिर्च

नई दिल्ली। काली मिर्च में कई तरह के औषधीय गुण पाये जाते हैं। सर्दियों के मौसम में इसके इस्तेमाल से सर्दी, जुुुकाम, बुखार समेत कई अन्य बीमारियों में आराम मिलता है। साथ ही यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी बढ़ोत्तरी करता है। काली मिर्च में पैपरीन नामक तत्व पाया जाता है। वहीं इसमें आयरन, पोटैशियम, मैग्नीशियम, मैंग्नीज, जिंक, क्रोमियम, विटामिन ए और अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसके सेवन से कई फायदे होते हैं। कफ की समस्या हो तो एक चम्मच शहद में 2-3 बारीक कुटी काली मिर्च के साथ एक चुटकी हल्दी मिला कर उसका सेवन करें। याददाश्त कमजोर है तो काली मिर्च को शहद में मिला कर खाएं। सर्दी-जुकाम से परेशान हैं तो काली मिर्च को गर्म दूध में मिला कर लें। फेफड़े और सांस नलियों में संक्रमण है तो काली मिर्च और पुदीने की चाय का सेवन कर सकते हैं।

यदि गले से खरखराहट भरी आवाज निकल रही है तो काली मिर्च को घी व मिश्री के साथ मिला कर खाएं। पेट में गैस की समस्या है तो एक कप पानी में आधा नीबू का रस, आधा चम्मच काली मिर्च का पाउडर व आधा चम्मच काला नमक मिला कर पिएं। पेट में कीड़े हो तो काली मिर्च को किशमिश के साथ 2-3 बार चबा कर खा जाएं। एक गिलास छाछ में थोड़ी-सा काली मिर्च का पाउडर मिला कर पीने से भी पेट के कीड़े मर जाते हैं। काली मिर्च आंखों के लिए लाभकारी होता है। काली मिर्च को पीस कर उसके पाउडर को देशी घी के साथ मिला कर खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है। दांतों में होने वाले रोग पायरिया से परेशान हैं और दांत कमजोर हैं तो काली मिर्च को नमक के साथ मिला कर दांतों पर लगाएं।

Gyan Dairy
Share