blog

पीरियड्स में होता है असहनीय दर्द तो अपनाएं ये उपाय, तत्काल मिलेगा आराम

पीरियड्स में होता है असहनीय दर्द तो अपनाएं ये उपाय, तत्काल मिलेगा आराम
Spread the love

लखनऊ। कुछ महिलाओं को मासिक धर्म यानी पीरियड्स के दौरान असहनीय दर्द से गुजरना पड़ता है। ऐसे दिनों में महिलाएं थकान, सुस्ती और चिड़चिड़ापन का अनुभव करती हैं। आज हम आपको पीरियड्स के दर्द से तुरंत छुटकारा पाने के लिए कुछ रामबाण नुस्खों के बारे में बताने जा रहे हैं।

दर्द होते ही करें ये उपाय

  • सबसे पहले आप अपने पीरियड्स डेट आने से पहले ही दूध में छुआरा मिलाकर खाना शुरु कर दें। अगर आपको दूध के साथ छुहारा खाना पसंद नहीं है तो आप इसे पानी में फूलाकर भी खा सकते हैं।
  • पानी में 2-3 बूंद नींबू निचोड़ कर पी लें। इससे बहुत आराम मिलेगा।
  • पेट और कमर के निचले हिस्से पर गर्म पानी की थैली रखना और गर्म पानी से स्नान लेना इस समस्या में तत्काल आराम दिला सकता हैकई प्रकार की चाय, जैसे कि अदरक, जैस्मिन (चमेली) और कैमोमाइल (बबूने का फूल) की चाय पीने से भी दर्द में राहत मिलती है और यह शरीर की नमी को बनाए रखकर खून की कमी से ल़डने में भी मदद करता है।
  • वॉटर रिटेंशन यानी जल प्रतिधारण की समस्या से ग्रस्त ल़डकियों या महिलाओं को डेंडिलियोन (पीले फूल का एक प्रकार को पौधा) की चाय का सेवन काफी आराम दिला सकता है।
  • पीरियड्स में दर्द को कम करने के लिए विटामिन बी, ई, सी और फोलेट जैसे कई सप्लीमेंट्स लेना भी फायदेमंद रहेगा।
  • फलों और हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे रेशे से भरपूर आहार लें, जिनमें विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में होते हैं।
  • ऎलोवेरा जूस और पपीता भी मासिक की ऐंठन को दूर करने में बेहद मददगार है।
  • इस दौरान दूध से बनी चीजों, मांस और दालों के सेवन से बचें, क्योंकि ये चीजें पेट में गैस उत्पन्न कर दर्द को बढ़ा सकती हैं।
  • कॉफी का सेवन भी न करें, क्योंकि यह रक्त नलिकाओं को संकुचित कर बेचैनी, ऐंठन और दर्द को बढ़ा सकती है।
  • हल्का व्यायाम, योग और स्ट्रेचिंग ऐंठन के कारण होने वाले दर्द से छुटकारा दिलाने में सहायक है।
  • पीरियड्स के दर्द में अदरक का सेवन भी तुरंत राहत पहुंचाता है।
  • एक कप पानी में अदरक के टुकड़े को बारीक काटकर उबाल लें और उसमें गुड़ मिलाकर उसका सेवन करें।

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *