आंतों में घाव, सूजन, अल्सर जैसी समस्याओं को दूर रखते हैं जामुन के बीज

नई दिल्ली। जामुन के बीज को सेहत के लिए वरदान होते है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, फ्लेवोनोइड, विटामिन सी, जिंक और कैल्शियम जैसे गुण न सिर्फ व्यक्ति को डायबिटीज के खतरे से बचाते हैं बल्कि शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम करके पाचन को दुरुस्त और वजन कंट्रोल करने में भी मदद करते हैं। जामुन ब्लड में शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए फेमस है। जामुन के बीजों में जाम्बोलिन और जाम्बोसिन नामक यौगिक होते हैं जो ब्लड में शुगर की मात्रा को कम करने मेंमदद कर सकते हैं। जामुन के बीज को पाचन के लिए अच्छा माना जाता है।

फाइबर के गुणों से भरपूर जामुन के बीज आंतों में घाव, सूजन और अल्सर जैसी समस्याओं को कम करने में मदद कर सकते हैं। जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उनके लिए जामुन के बीज का सेवन वरदान साबित हो सकता है। जामुन में फाइबर प्रचूर मात्रा में मौजूद होता है, जो पेट को हेल्दी रखने और वजन घटाने में व्यक्ति की मदद करता है। महिलाओं को अक्सर पीरियड्स के दौरान दर्द का सामना करना पड़ता है। जामुन बीज के पाउडर में मौजूद जिंक पेट दर्द से छुटकारा दिला सकता है। कोरोना काल में हर कोई अपनी इम्यूनिटी मजबूत करने के प्रयास में लगा हुआ है। ऐसे में जामुन के बीज आपकी इस तमन्ना को पूरा कर सकते हैं। जामुन के बीज में मौजूद फ्लेवोनोइड जैसे एंटीऑक्सिडेंट शरीर को हानिकारक कणों से दूर रखने में मदद करते हैं।

Gyan Dairy
Share