स्वादिष्ट और सेहत से भरपूर विटामिन का पावरहाउस है मटर

नई दिल्ली। सर्दियों के मौसम में कई तरह की सब्जियां बाजार में मिलती है। जो सभी उम्र के बच्चों को काफी पसंद भी आती है। इन्हीं में से एक है मटर। मटर लगभग हर सब्जी में मिलाकर बनायी जाती है। मटर खाने में जितनी स्वादिष्ट लगती है उतनी ही सेहत के लिए फायदेमंद भी है। मटर में विटामिन ए, बी1, बी6, सी और के भरपूर मात्रा में पाया जाता है।इसलिए इसे विटामिन का पावरहाउस भी कहा जाता है। बहुत कम कैलोरी और फाइबर, प्रोटीन, मैंगनीज, आयरन और फोलेट से भरपूर मटर सेहत का ख़ज़ाना है। मटर ना सिर्फ आपके खाना का स्वाद बढ़ाती है बल्कि ये आपको हेल्दी भी बनाती है। मटर कई बीमारियों के उपचार में सहायक है। मटर स्किन और बालों दोनों के लिए फायदेमंद है। लेकिन आप जानते हैं मटर के कुछ साइड इफेक्ट भी है।

मटर डायबिटीज को नियंत्रित करती हैं। मटर में बहुत अधिक मात्रा में फाइबर और प्रोटीन पाया जाता है जो शरीर में खून की मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करता है। मटर को सबसे अच्छा वेट लॉस डाइट माना जाता है। फाइबर और प्रोटीन से भरपूर होने की वजह से इसे खाने के बाद बहुत देर तक भूख नहीं लगती है जिससे वजन कंट्रोल करने में मदद मिलती है। मटर हड्डियों की हिफाजत करने का भी काम करती है। मटर में प्रचूर मात्रा में विटामिन K पाया जाता है, जो शरीर की हड्डियों को मजबूत करता है साथ ही हड्डियों में होने वाले ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे को भी कम करता है। मटर में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं तो शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाती है जिससे बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है। फाइबर से भरपूर मटर पाचन तंत्र को दुरुस्त रखती है। ये शरीर में अच्छे बैक्ट्रिया को बढ़ाती है जिससे आंत ठीक रहती है। मटर में पाए जाने वाले मैग्नीशियम, पोटेशियम और कैल्शियम दिल को स्वस्थ रखते हैं। मटर हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से बचाता है। मटर शरीर से बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। मटर में पाया जाने वाला सी कोलेजन के उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इससे त्वचा बेदाग और चमकदार बनती है। हरी मटर में फ्लेवोनोइड्स, कैटेचिन, एपिक्टिन, कारोटेनोइड और अल्फा-कैरोटीन पाया जाता है जो उम्र बढ़ने के संकेतों को रोकता है।

Gyan Dairy
Share