सर्दियों के मौसम में गर्भवती महिलाओं को रखना चाहिए अपना विशेष ख्याल

नई दिल्ली। सर्दियों के मौसम में कई तरह की परेशानियों से दो-चार होना पड़ता है। इस मौसम में हर उम्र के लोगों का विशेष ख्याल रखना पड़ता है। लेकिन यदि आप गर्भवती हैं, तब तो प्रतिपल देखभाल करना बहुत जरूरी है। सर्दी के मौसम में यदि गर्भवती महिला को स्वस्थ रहना है तो सबसे आवश्यक है कि वे अपनी डाइट और जीवनशैली पर ध्यान दें।

यदि आपको ठंड नहीं भी लग रही है तब भी सुबह- शाम गर्म कपड़े पहनें। गर्भवती महिला को खुद को सर्दी से बचाना इसलिए जरूरी हो जाता है क्योंकि उनके गर्भ में बच्चा पल रहा होता है। जिस पर बाहर के बदलते मौसम का सीधा असर होता है। इसलिए जरूरी है कि समय-समय पर गर्म कपड़े पहनें जिससे कि बच्चे को ठंड का अहसास न हो। पांव में मोजे पहनकर रखें। घर में भी चप्पल पहनकर ही घूमें। सर्दियों में शरीर में आलस्य बना रहता है और गर्भवती महिलाओं के साथ तो यह समस्या अधिक रहती हैै इसलिए आप सर्दी के मौसम में थोड़ा बहुत योग जरूर करें। योग आपके और आपके बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। आसान आसनों का चयन करें और शरीर की क्षमता के अनुसार ही आसन करें। रोजाना योग करने से आप शरीर में गर्माहट महसूस करेंगी और गर्भ में पल रहे आपके बच्चे को भी ठंड या बाहर के बदलते मौसम का असर कम से कम होगा। सर्दी में रोग-प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित होती है इसलिए बहुत जरूरी है कि गर्भवती महिलाएं अपनी डाइट में इस तरह का आहार शामिल करें जो कि रोग-प्रतिरोधक क्षमता को प्रभावित न करे। शरीर में गर्माहट बनी रहे इसलिए केसर वाला दूध का सेवन करें। लहसून, पालक, हरी सब्जियों व फलों को अपनी डाइट में शामिल करें। विटामिन-सी को भी सेवन करते रहें। सर्दियों में गर्भवती महिलाओं की त्वचा अधिक रूखी होती है। गर्भवती महिलाएं अधिक से अधिक गर्म पानी का इस्तेमाल करें। गर्म पानी से हाथ- पैरों को साफ करने के बाद हल्के हाथों से कोई अच्छा मॉइश्चराइजर लगाएं या फिर खोपरे के तेल से भी मालिश कर सकते हैं। ऐसा करने से त्वचा में ज्यादा खिंचाव महसूस नहीं होगा।

Gyan Dairy
Share