बीवियों की ऐसी 10 हरकतें, जो पतियों को नहीं भाती

शादी के शुरूआती सालों में सब ठीक होता है लेकिन 3-4 साल बाद ही सब बदलने लगता है। बीवी को पति का ध्‍यान नहीं मिलता है जिसके कारण वो खिजती रहती हैं। शायद उन्‍हे इस बात का अंदाजा भी नहीं होता है कि ऐसा उनके अपने व्‍यवहार के कारण ही होता है। छोटी-छोटी बातों से घर में पति-पत्‍नी के बीच तनातनी होना सामान्‍य बात है लेकिन पत्नियां उसे इश्‍यू बना देती है और पति उसे सुलझाने के बजाय बात को दिल पर लेकर बैठ जाते हैं।

कई बार, घरों में औरतें बड़ा इरीटेटिंग हो जाती हैं। हर समय चि‍कचिक मचाने से घर में क्‍लेश मच जाता है। ऐसे में पति दूर होने लगते हैं और अपना ध्‍यान कहीं और बांटने लगते हैं। आइए जानते हैं‍ कि महिलाओं की कौन सी आदतें उन्‍हे पति का प्‍यार पाने से रोक लेती हैं

बिना पेट्रोल की गाड़ी

पतियों को बिल्‍कुल बर्दाश्‍त नहीं होता है कि कार या स्‍कूटी में तेल न रहें। लेकिन बीबियों को पेट्रोल टंकी तक जाने में आलस आता है और वे बिना पेट्रोल डलवाएं ही घूमकर वापस आ जाती हैं।

बच्‍चों की तरह ट्रीट करना

पुरूषों को अच्‍छा लगता है कि उन्‍हे कोई पैम्‍पर करें, लेकिन बच्‍चों की तरह ट्रीट करना, उन्‍हे रास नहीं आता है। उन्‍हे घर में सम्‍मानजनक स्थिति में रहना पसंद होता है।

सवालों की बौछार

पति सुकुन से टीवी देख रहा है, लेकिन पत्‍नी सवालों की बौछार किए पड़ी है। ऐसे में पति को गुस्‍सा आ ही जाता है। महिलाएं अक्‍सर ऐसा करती हैं, अगर वो मूवी देखने जाती हैं तो वहां भी हमेशा बात ही करती रहती हैं। ऐसे में आदमी एंजाय नहीं कर पाता है और उसे खीझ आने लगती है।

मीनमेख निकालना

बीबी का पति के काम में हमेशा मीनमेख निकालना, पति को दूर कर देता है। पति को समझ में आता है कि उसे क्‍या काम कितना गलत किया है लेकिन उसे कड़ी निंदा की आदत नहीं होती है। ऐसे में खुली आलोचना से उसका दिमाग घूम जाता है।

किसी तीसरे को लड़ाई में घुसाना

पति को पसंद नहीं आता है उनके बीच की किसी समस्‍या को किसी तीसरे से बताया जाएं। लेकिन पत्‍नी ऐसा करती ही है। उसे उन दोनों के बीच किसी तीसरे ला देना होता है। वह अपनी सारी बातें अपनी सहेली, मां या किसी रिश्‍तेदार के सामने उगल देती है, इससे पति चिढ़ जाता है।

Gyan Dairy

किसी तीसरे को लड़ाई में घुसाना

पति को पसंद नहीं आता है उनके बीच की किसी समस्‍या को किसी तीसरे से बताया जाएं। लेकिन पत्‍नी ऐसा करती ही है। उसे उन दोनों के बीच किसी तीसरे ला देना होता है। वह अपनी सारी बातें अपनी सहेली, मां या किसी रिश्‍तेदार के सामने उगल देती है, इससे पति चिढ़ जाता है।

सलाह न लेना

पति, हमेशा सलाह लेकर काम करना पसंद करते हैं लेकिन पत्नियां अपनी मर्जी की मालकिन होती हैं। वे धन के मामले में कोई सलाह नहीं लेती हैं और अपने मन के हिसाब से उसे एडजस्‍ट करती हैं और यही कारण बन जाता है कि दोनों के बीच सम्‍मानजनक दूरी आ जाती है।

सलाह न मानना

मान लीजिए, पति ने मना किया उस रास्‍ते से न जाया करो। लेकिन पत्‍नी को पति की बातों को मानने में कोई दिलचस्‍पी नहीं है। या फिर पति कहता है कि ट्रायल रूम में कोई सेलेक्‍टेड ड्रेस ही ट्राई करो, लेकिन पत्‍नी सौ कपड़ों का ट्रायल लेगी। ऐसे में पति को लगता है कि उसकी वैल्‍यू नहीं है और वह अगली बार से सलाह देना ही बंद कर देता है।

सेक्‍स को न कहना

पति-पत्‍नी के बीच कुछ भी होगा तो पत्‍नी सबसे पहले सेक्‍स को न कह देती है। वो समझने में भूल कर बैठती है कि पुरूष सिर्फ सेक्‍स के जरिए ही अपनी भावनाओं को व्‍यक्‍त करते हैं। ऐसे में आपका न कहना, आपको ही भारी पड़ सकता है। इससे पति की भावनाएं आहत हो जाती हैं।

शक करना

आपका पति किसी लड़की की ओर देखता है तो आप उस पर सवार हो जाती हैं। ऐसे में थोड़ा दिमाग लगाएं कि देखने भर से कोई किसी का नहीं हो जाता है। वह आपका ही है। अगर वो सुंदरता की सराहना करते हैं तो करने दीजिए, इसका मतलब यह नहीं है कि उसका अफेयर उसके साथ हो गया है।

Share