भारत में अरेंज मैरिज के असफल होने के 10 कारण

भारत में ज्यादातर लोग अरेंज मैरिज को ही महत्त्व देते हैं, जैसे जैसे समाज कई मायनों में मॉडर्न हो रहा है अरेंज मैरिज का वजूद भी धीरे धीरे कम हो जाएगा। यह प्रथा समाज के कुछ हिस्सों में ही आगे प्रचलित रहेगी। आजकल इंटरनेट का दौर है और इस पर अपने सपनों के जीवन साथी को खोजने के अनेकों विकल्प मौजूद हैं। अरेंज मैरिज बहुत बार गलत साबित हो रही हैं।

इसके अनेकों कारण हैं। कई बार ये कारण विशिष्ट हो सकते हैं तो कई बार सामान्य। हम इस आर्टिकल में पढेंगें की भारत में अरेंज मैरिज क्यों असफल होती हैं? हम इन कारणों की गहराई में जाएंगे जिनसे ये विवाह असफल होते हैं। जो लोग अरेंज मैरिज करने के इच्छुक हैं उनके लिए बिना किसी संदेह के इन बिन्दुओं को जानना बहुत जरूरी है। आगे चलते हैं और इस बारें में और जानकारी प्राप्त करते हैं।

जब एक दूसरे के साथ कम समय बिताया हो

यदि किसी भी रिश्ते को जिंदादिल और खुशनुमा बनाना है तो एक दुसरे के साथ समय बिताना बहुत जरूरी है। अरेंज मैरिज में शायद यह नहीं होता है। सगाई से लेकर शादी तक लड़का लड़की एक दुसरे को देखते नहीं हैं और यदि देखते भी हैं तो साथ में पेरेंट्स भी होते हैं। यह अरेंज मैरिज के असफल होने का मुख्य कारण है।

एक दुसरे की आशाओं का पूरी तरह पता नहीं होता है

जहाँ तक एक अच्छे वैवाहिक जीवन का सवाल हैं, आपको एक दुसरे की आशाओं और उम्मीदों की जानकारी होनी चाहिए। अरेंज मैरिज में यह नहीं होता है।

एक दुसरे की इच्छाओं की भी जानकारी नहीं होती हैं

अरेंज मैरिज में आप मिलते हैं और एक रिश्ते की गाँठ में बांध जाते हैं| यह अजीब लग सकता हैं लेकिन भारत में अरेंज मैरिज में यह सच्चाई है| एक अच्छे रिश्ते के लिए एक दुसरे की इच्छाओं और रुचियों को जानना बेहद जरूरी है|

जब कम्युनिकेशन गैप हो

कम्युनिकेशन गैप (संवादहीनता) से भी रिश्ते में दरार पड़ जाती है। अरेंज मैरिज में आप नए मिलते हैं, एक दुसरे को ज्यादा जानते नहीं तो एक कम्युनिकेशन गैप पैदा होता है।

आपको एक दूसरे की विवाह पूर्व जिंदगी का पता नहीं होता है

इसमें पार्टनर्स को एक दुसरे की विवाह पूर्व जिंदगी का पता नहीं होता है। अपने पार्टनर के अतीत के बारें में जानकारी नहीं होने से आप उनकी कई बातों का गलत मतलब निकाल सकते हैं, यह भी एक परेशानी है।

Gyan Dairy

अपने पार्टनर का कोई ऋण बकाया होना

कुछ लोग अपने आपको अचानक एक बड़ी अधरझूल में पाते हैं क्यों कि उन्हें अपने पार्टनर या उसके परिवार के आर्थिक हालातों और बकाया ऋण जैसी चीजों का पता नहीं होता है। यह अच्छे वैवाहिक जीवन के लिए एक बेकार साबित हो सकता है।

परिवारों का दबाव

यह दबाव भी तनाव देता है। परिवारों का अनावश्यक दबाव दोनों कि जिंदगी को ख़राब कर सकता है। कई कपल्स इसे समझ नहीं पाते हैं और अपनी जिंदगी ख़राब कर लेते हैं।

इन-लॉज से नहीं बनना

कई दुल्हनों के लिए इन-लॉज भी परेशानी का सबब बनते हैं। कई नवविवाहित लड़कियां नए घर में इन-लॉज के प्रेशर को नहीं समझ पाती हैं। यह भी अरेंज मैरिज के फ़ैल होने का एक बड़ा कारण है।

नौकरी की मांग

नौकरी की मांग भी रिश्तों को ख़राब करती है। खास तौर पर अरेंज मैरिज में जहाँ आप अपने जीवन साथी को भी ढंग से नहीं जानती हैं वहां इस तरह की मांग समस्या पैदा करती है।

एक दूसरे के प्रति प्यार पैदा होने में भी समय लगता है

अरेंज मैरिज में एक दुसरे के प्रति प्यार पैदा होने में भी समय लगता है। एक दुसरे को सही से नहीं जानने के कारण ऐसा होता है।

Share