बच्चों को होमोसेक्सुअलिटी के बारे में बतायें

बदलते भारतीय समाज में होमोसेक्सु‍अलिटी को स्वीकार करना बहुत सामान्य नहीं है फिर भी जो लोग होमोसेक्सुअल हैं वे अपने-आप को होमोसेक्सुअल घोषित कर रहे हैं। बच्चे सेक्स और उससे जुडे मुद्दों के बारे में अनभिज्ञ ही रहते हैं। बच्चे अक्सर टीवी या अखबार के जरिए इस शब्द के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं। अगर अपने बच्चों के मुंह से ” गे ” या ” लेस्बियन ” जैसे शब्दों का प्रयोग करते हुए सुने तो उनको होमोसेक्सुअलिटी के बारे में जानकारी जरूर दीजिए। आइए हम आपको बताते हैं कि अपने बच्चे को होमोसेक्सु‍अलिटी के बारे में कैसे बताएं।

बच्चों को बताऐं होमोसेक्सुअलिटी के बारे में

  • हालांकि बच्चों को होमोसेक्सुअलिटी के बारे में जानकारी देना और बच्चों को इस विषय पर आसानी से समझाना दोनों ही बहुत ही कठिन काम है। लेकिन बच्चे अक्सर सार्वजनिक जगहों जैसे :- मॉल, स्कूल और पार्कों में ऐसे लोगों को देखते हैं तो उनके मन में भी इसे जानने की उत्‍सुकता होती है।
  • बच्चों को उनकी उम्र और उनके सोचने और समझने की शक्ति के अनुसार ही होमोसेक्सुअलिटी के बारे में जानकारी दीजिए। सरल शब्दों का प्रयोग करने से बच्चों को समझने में आसानी होगी।
  • बच्चों को इस विषय के बारे में धीरे-धीरे जानकारी दीजिए। क्योंकि अगर आप अपने बच्चे को इस विषय पर एक ही बार में ज्यादा जानकारी दे देंगे तो वह अच्छे से समझ नहीं पाएगा।
  • बच्चों को होमोसेक्सुअलिटी की बात करते वक्त उसकी अच्छाई और बुराई दोनों के बारे में जानकारी दीजिए। हालांकि होमोसेक्सुअलिटी को एक मनोविकार माना गया है। लेकिन बच्चे को इस विषय पर पूरी जानाकरी होनी चाहिए ताकि वह गलत रास्ते पर न जाए।
  • बच्चों से सबसे पहले यह पूछिए कि गे या लेस्बियन शब्द से वह क्या समझते हैं। जब आप अपने बच्चों से इस शब्द का उपयोग करते हुए सुनें तो इसका मतलब जरूर पूछिए।
  • बच्चों को समलैंगिकता के बारे में विस्तृत जानकारी दीजिए। उनको बताइए कि जब पुरूष को पुरूष की तरफ और महिला को महिला की तरफ आकर्षण होता है तब उनको गे या लेस्बियन कहते हैं।
  • बच्चों को समलैंगिक लोगों के व्यवहार के बारे में जानकारी दीजिए और यह भी बताइए कि यह कितना गलत है। जैसे कि लडके लिपस्टिक लगाए हों, किसी सार्वजनिक स्थान पर एक ही सेक्स के व्यक्ति को घूरना, एक ही सेक्स के व्यक्ति को गले लगाना आदि लक्षण जो कि समलैंगिक को आम आदमी से अलग करते हैं। बच्चों को इसकी जानकारी दीजिए।
  • जब किसी आदमी को एक ही लिंग की तरफ ज्यादा झुकाव हो तब वह गे या लेस्बियन कहलाता है।
  • बच्चों को यह बताएं कि कभी अपने को गे या लेस्बियन साबित करने की कोशिश न करें। कभी-कभी कुछ बच्चे ऐसा करने की कोशिश करते हैं। उनको ऐसा करने से रोकने के लिए इसके बुराइयों के बारे में बताइए।

बच्चों से इस विषय पर चर्चा करना बहुत ही कठिन काम है। लेकिन अगर आप अपने बच्चों को इसके बारे में जानकारी देंगे तो उनको ऐसे लोगों और उनके व्यवहार को समझने में आसानी होगी। क्योंकि दूसरों की अपेक्षा आप अपने बच्चों को उचित और सही जानकारी दे सकते हैं।

Gyan Dairy
Share