बेहतर सेक्‍स जीवन की राह में मोटापा एक बड़ी बाधा …

Better Sex Life Through Weight Loss in Hindi | वजन घटाकर कैसे पा सकते हैं बेहतर सेक्स लाइफ

वजन कम करके आप इस समस्‍या से निजात पा सकते हैं। क्‍या आप नहीं जानना चाहते कि आखिर मोटापा कैसे आपके सेहत और सेक्‍स जीवन को प्रभावित कर रहा है।

मोटापा आपके शरीर पर बुरा असर डालता है। यह आपके दिल और दिमाग के लिए अच्‍छा नहीं। लेकिन क्‍या आपको यह पता है कि यही मोटापा आपके सेक्‍स जीवन को भी बुरी तरह प्रभावित कर सकता है।

मोटापे के कारण कार्यक्षमता में कमी, सेक्‍सुअल निष्क्रियता और हॉर्मोन असंतुलन जैसी तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसके साथ ही मोटापे से होने वाली इन तमाम बीमारियों के लिए आप जो दवायें लेते हैं, वे भी आपकी सेक्‍स क्षमता पर दुष्‍प्रभाव डालती हैं।

love-couple

दुनिया में सामान्‍य से अधिक वजन वाले लोगों की तादाद करोड़ों में है और इसलिए मोटापे और सेक्‍स पर पड़ने वाले इसके प्रभाव के बारे में अब गहन चर्चायें की जा रही हैं।

आत्‍मविश्‍वास की कमी :

मोटे लोगों में अपनी सेक्‍स लाइफ को लेकर आत्‍मविश्‍वास की कमी देखी जाती है। ड्यूक विश्वविद्यालय के एक शोध के मुताबिक मोटापे और सेक्‍सुअल क्‍वालिटी में सीधा संबंध है। इस शोध में पाया गया है कि वजन का केवल 13 फीसदी कम करने से ही लोग स्‍वयं के बारे में बेहतर महसूस करने लगते हैं। इसके सा‍थ ही वे अपने सेक्‍स जीवन से अधिक संतुष्‍ट होते हैं।

हार्मोंस पर असर :

मोटापा शरीर में हॉर्मोनल असंतुलन और टेस्‍टोस्‍टेरॉन के स्‍तर में कमी का प्रमुख कारण माना जाता है। इससे महिलाओं और पुरुषों दोनों में सेक्‍स के प्रति अरूचि पैदा हो जाती है। इसके साथ ही शरीर पर जमा अतिरिक्‍त चर्बी शारीरिक तंत्र में अधिक सेक्‍स हॉर्मोंस बाइडिंग ग्‍लोबूलिंस (एसएचबीजी) का स्राव करता है। यह हॉर्मोन टेस्‍टोस्‍टेरॉन को नियंत्रित करता है। इसका अर्थ यह होता है कि शरीर में सेक्‍स हार्मोन की कमी हो जाती है।

मोटापे का महिलाओं के सेक्‍स जीवन पर असर :

महिलाओं में मोटापा अण्‍डाणुओं में असामान्‍यता ला देता है। इससे उन्‍हें गर्भधारण में मुश्किलें आती हैं। बर्मिंघम एंड वूमन्‍स हॉस्पिटल ने आईवीएफ तकनीक से भी गर्भधारण न कर पाने वाली करीब 300 महिलाओं के अण्‍डाणुओं का अध्‍ययन कर पाय कि मोटी महिलाओं के अण्‍डाणुओं में अधिक असामान्‍यता थी, जिस कारण वे गर्भधारण नहीं कर पा रहीं थीं। मोटी महिलाओं में गर्भधारण में असफलता और गर्भपात की आशंका सामान्‍य महिलाओं की तुलना में अधिक होती है।

Gyan Dairy

मोटापे का पुरुषों के सेक्‍स जीवन पर असर :

वहीं पुरुषों में मोटापा नपुसंकता का कारण बन सकता है क्‍योंकि यह शुक्राणुओं के निर्माण पर विपरीत प्रभाव डालता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि वे पुरुष जिन्‍होंने फैटी डायट का सेवन किया उनके शुक्राणुओं का स्‍तर कम पाया गया। वे पुरुष जिन्‍होंने अधिक संतृप्‍त वसा का सेवन किया उनमें सामान्‍य पुरुषों के मुकाबले 35 फीसदी कम शुक्राणु पाए गए। वहीं स्‍वस्‍थ आहार लेने वाले पुरुषों के मुकाबले यह स्‍तर 38 फीसदी था।

इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन :

मोटापा डा‍यबिटीज, उच्‍च कोलेस्‍ट्रॉल और उच्‍च रक्‍तचाप जैसी बीमारियां देता है। जिससे शरीर में रक्‍त प्रवाह पर बुरा असर पड़ता है। इस कारण लिंग में पर्याप्‍त मात्रा में रक्‍त नहीं पहुंच पाता। इससे उसकी कार्यक्षमता पर बुरा असर पड़ता है। और सेक्‍स के दौरान उसमें पूरा तनाव नहीं आ पाता। कई शोध इस बात को प्रमाणित कर चुके हैं कि थोड़ा सा वजन कम करने से ही सेक्‍सुअल लाइफ को बेहतर बनाया जा सकता है।
मोटापे से जुड़ी बीमारियां

मोटे व्‍यक्ति की शरीर में जमा अतिर‍िक्‍त चर्बी के कारण उसे कई अन्‍य बीमारियां भी हो जाती हैं। जिसका असर उसकी सेक्‍स लाइफ पर भी पड़ता है। ये बीमारियां शारीरिक और मानसिक दोनों हो सकती हैं। इसके साथ ही मोटापे से होने वाली बीमारियां, जैसे डायबिटीज, रक्‍तचाप आदि के लिए ली जाने वाली दवायें भी आपकी सेक्‍स लाइफ को बुरी तरह प्रभावित कर सकती हैं।
मोटापा न केवल मधुमेह और रक्‍तचाप बल्कि दिल की बीमारियां, कैंसर, अवसाद, डिमेंशिया और कई अन्‍य बीमारियों की भी जड़ होता है। ये सब बीमारियां आपकी सेक्‍सुअल क्रिया को बुरी तरह प्रभावित करती हैं। शोध यह भी बताते हैं‍ कि हृदय रोग, उच्‍च रक्‍तचाप और कोलेस्‍ट्रॉल के लिए ली जाने वाली दवाओं के दुष्‍प्रभाव से नपुसंकता , सेक्‍स ड्राइव में कमी, वीर्य स्‍खलन में परेशानी और यहां तक कि ऑर्गज्‍म न होने तक की परेशानी हो सकती है। तो, अगर आप मोटापे की गिरफ्त में हैं, तो उसे आज से, बल्कि अभी से उसे दूर करने का प्रयास करें।

कम पोजीशन यानी कम आनंद :

मोटापा आपकी शारीरिक गतिविधियों को सीमित कर देता है। इसका अर्थ यह है कि आप सेक्‍स के दौरान कम कामासन कर पायेंगे। इससे आपके सेक्‍स का आनंद भी सीमित हो जाएगा। अगर दोनों ही साथी मोटे हों, तो आपके लिए मुश्किल और ज्‍यादा हो जाती है। ऐसे में कई प्रकार एक अथवा दोनों साथी की सेक्‍स का पूरा सेशन होने के बाद भी असंतुष्‍ट रह जाते हैं। असंतुष्‍ट सेक्‍स से निजी जीवन पर भी बुरा असर पड़ता है।

कार्यक्षमता पर असर :

मोटापे को अक्‍सर आलस्‍य और निष्‍क्रिय जीवनशैली से जोड़कर देखा जाता है। और सेक्‍स के दौरान भी यही सामने आता है। मोटे व्‍यक्ति की कार्यक्षमता कम होती है और ऐसे में वह चाहकर भी साथी के साथ सेक्‍स करते हुए पूरी तरह सहयोग नहीं कर पाता। इसके साथ ही मोटापे से व्‍यक्ति के इरेक्‍शन भी कम समय तक रहता है।

अगर आप अधिक वजन से परेशान हैं, तो अभी वक्‍त है। आज ही से वजन घटाने की शुरुआत कीजिए। यह न केवल न आपको शारीरिक रूप से अधिक सक्रिय बनाकर रखेगा, बल्कि आपकी सेक्‍स लाइफ को भी पहले से बेहतर बनाएगा। पेट पर अतिरिक्‍त चर्बी को हटाकर आप स्‍वयं अपने बारे में बेहतर महसूस करेंगे। तो अब फैसला आपका है आपको मोटापे से प्‍यार है या अपने आप से।

Share