सर्दी के मौसम में त्वचा को रूखा,बेजान होने से बचाता है ग्लिसरीन

नई दिल्ली। सर्दी के मौसम में त्वचा का रूखा और बेजान होना आम बात है। इस मौसम में हम महंगे से महंगे माइश्चुराइजर और कोल्ड क्रीम का इस्तेमाल करते हैं ताकि हमारी स्किन हेल्दी रहें। इन मॉइश्चुराइजर और कोल्ड क्रीम में भी कैमिकल का इस्तेमाल होता है, जो स्किन को पूरी तरह ठीक नहीं करता। इस मौसम में ग्लिसरीन स्किन केयर के लिए टॉनिक का काम करती है। चेहरे की झुर्रियां फाइन लाइन्स, ड्राई पैच, एजिंग, स्किन इन्फेक्शन और चाहे किसी भी तरह की स्किन संबंधी परेशानी क्यों न हो ग्लिसरीन से बेहतर विकल्प दूसरा और कोई नहीं हो सकता। ग्लिसरीन हर तरह की स्किन के लिए अनुकूल है, खासतौर पर ड्राई स्किन वाले लोगों के लिए।

ग्लिसरीन बेहतरीन स्किन कंडीशनर है जो नमी को स्किन में लॉक करती है। जिन लोगों की स्किन सर्द मौसम में पपड़ी की तरह टाइट होने लगती है उनके लिए ये सुरक्षित और बेहद उपयोगी है। ग्लिसरीन का इस्तेमाल क्लींजर के तौर पर भी कर सकती है। चेहरे से धूल मट्टी और एक्सट्रा ऑयल निकालने के लिए ग्लिसरीन के क्लींजर का इस्तेमाल कर सकती है। क्लींजिंग पेस्ट बनाने के लिए आधा चम्मच शहद, एक चम्मच ग्लिसरीन और आधा चम्मच केस्टाईल साबुन को मिला लें। इस पेस्ट को सुबह और शाम अपना चेहरा क्लीन करें। ग्लिसरीन स्किन की कई बीमारियों का भी इलाज कर सकती है। स्किन पर एक्जीमा का इलाज करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसमें एंटी एजिंग गुण भी होते हैं जो उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करता है। ये फैंसी बॉडी क्रीम और लोशन का बेहतरीन विकल्प है जो हमारी स्किन को सुरक्षा कवच प्रदान करता है। ग्लीसरीन सफेद और गाढ़ा पदार्थ होता है इसे सीधे चेहरे पर नहीं लगाएं। इसलिए ध्यान रखें कि इसे चेहरे पर लगाने से पहले चेहरे पर पानी या गुलाब जल लगाएं। गुलाब जल इसे पतला करेगा और चेहरे पर चिपकेगा भी नहीं। चेहरे पर ग्लीसरीन की सीमित मात्रा का ही इस्तेमाल करें। चेहरे को अच्छी तरह से साफ करने के बाद ग्लिसरीन और गुलाब जल के मिश्रण को चेहरे पर लगाएं। अगर आपकी स्किन ऑयली है तो दिन में 2 बार ग्लिसरीन को टोनर के तौर पर जरूर इस्तेमाल कर सकते हैं।

Gyan Dairy
Share