एनीमिया के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होती है हरी धनिया

नई दिल्ली। हरी धनिया को हम अपने किचन में किसी भी डिश की खुशबू और खूबसूरती बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करते हैं। हरा धनिया सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। जिस तरह इसकी पत्तियों की सुगंध में ताजगी होती है। ठीक उसी तरह यह शरीर को भी ताजगी प्रदान करती है। हरी धनिया में प्रोटीन, वसा, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, मिनरल, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, कैरोटीन, थियामीन, पोटोशियम और विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। हरा धनिया पेट की समस्याओं को दूर करता है। इसके साथ ही यह पाचन शक्ति को भी बढ़ाता है।

हरा धनिया ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। डाइबिटीज रोगियों के लिए हरा धनिया किसी जड़ी-बूटी से कम नहीं है। इसके नियमित सेवन से ब्लड में इंसुलिन की मात्रा को कंट्रोल किया जा सकता है। हरा धनिया कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में फायदेमंद होता है। हरे धनिए में ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकते हैं। इसके लिए कोलेस्ट्रॉल से पीड़ित व्यक्ति को धनिया के बीजों को उबालकर इसके पानी को पीना फायदेमंद हो सकता है। हरी धनिया शरीर में खून को भी बढ़ाता है। एनीमिया को दूर करने में यह काफी लाभप्रद साबित होता है। इसके साथ ही एंटीऑक्सीएडेंट, मिनरल, विटामिन ए और सी से भरपूर होने के कारण धनिया कैंसर से भी बचाव करता है। हरे धनिया विटामिन ए भरपूर मात्रा में होता है जो आंखों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।

Gyan Dairy

 

Share