सेक्स समस्याओं के बारे में कैसे बात करें

यह तो सभी जानते हैं संबंधों में एक-दूसरे का साथ बेहद जरूरी है। पति-पत्नी के आपसी संबंधों में जहां शारीरिक संबंध जरूरी होते हैं वहीं मानसिक जुड़ाव भी बहुत जरूरी है। मानसिक जुड़ाव के साथ-साथ शारीरिक जुड़ाव संबंधों को अधिक मधुर बनाता है। एक तरफ जहां पति-पत्नी के संबंधों में सेक्स का बहुत महत्व है यही सेक्सा समस्याओं को भी इनसे अलग रखकर नहीं देखा जा सकता।

आमतौर पर पति-पत्नी सेक्स समस्याओं के बारे में बात करने से कतराते हैं, नतीजन सेक्स समस्या बढ़ती जाती है। ऐसे में पति और पत्नी दोनों में इतनी आपसी समझ होनी चाहिए कि एक-दूसरे से कोई भी बातें छुपाए बिना ना रह सकें। इतना ही नहीं इस मामले में महिलाएं कभी पहल नहीं करती। ऐसे में पुरूषों को चाहिए कि उनका व्यवहार ऐसा हो कि उनकी पत्नी उनसे हर बात शेयर कर सकें। आइए जानें सेक्स समस्याओं के बारे में कैसे बात करें।

  • जब भी महिलाओं को सेक्स समस्या होती है वह बताने से हिचकती है। सिर्फ महिलाएं ही नहीं पुरूषों के साथ भी ऐसी ही स्थिति होती है। ऐसे में समस्या बढ़ने की आशंका बराबर बनी रहती है।
  • यदि आप चाहते हैं कि कोई भी सेक्स समस्या है उसे आप अपने साथी से शेयर करें तो उसके लिए जरूरी है कि आपका अपने साथी को जानना कि उसकी आपकी इस समस्यास या परेशानी पर क्या प्रतिक्रिया होगी।
  • यदि आप अपने साथी से अपनी सारी बातें शेयर करते हैं तो आपको चाहिए कि आप अपने साथी से उन बातों को शेयर करने में भी सहज रहें जो आपने अब तक नहीं की है।

सेक्स समस्याओं के बारे में बातचीत के लिए उपाय कुछ उपाय

विश्वास जीते :- यदि आप चाहते हैं कि आप अपने साथी से सभी समस्याओं खासकर सेक्स समस्याओं के बारे में बातचीत कर सकें तो आपको अपने साथी को विश्वास में लेना होगा। यदि आपका अपने साथी पर भरोसा है तो आप बेझिझक अपने साथी को अपनी समस्या से रूबरू करवा सकते हैं।

अपने साथी को समझे :- यदि आपका साथी आपसे कुछ बात करने का इच्छुक है लेकिन कह नहीं पा रहा तो आपको चाहिए कि आप अपने साथी को दिलासा दिलाएं कि आप हरदम उसके साथ है इसीलिए कोई भी परेशानी है तो वह आपसे आराम से शेयर कर सकता है।

संवाद है जरूरी :- किसी भी बात को अपने साथी को बताने के लिए जरूरी है कि आप अपने साथी से लगातार संवाद करते रहें। यदि आप दोनों के बीच अच्छी तरह से बातचीत होगी तो आप सहज रूप से अपनी बात कह सकेंगे।

Gyan Dairy

प्यार जताएं :- यदि आप अपने साथी को अपनी कोई सेक्स समस्या से रूबरू करवाने जा रहे हैं तो आप उसे सीधे-सपाट शब्दों में ना कहें बल्कि उसके लिए थोड़ा समय लें और अपने साथी को बातचीत और प्यार से सहज करें। इसके बात सामान्य बातचीत के बाद ही अपनी समस्या बताएं।

इशारों को समझे :- आपको अपने साथी को इस तरह तैयार करना होगा कि वह आपकी बात बिना कहे भी समझ जाएं। यदि आप कोई बात शेयर करना चाहते हैं या फिर आप परेशानी में है तो आपके बिना बताएं आपका साथी आपको समझ जाए और आपसे खुद आपकी परेशानी को जानना चाहें।

पति-पत्नी के बीच प्यार तभी बरकरार रह सकता है जब आपसी सामंजस्य हो और दोनों के बीच खुलापन हो। ताकि दोनों में से कोई भी अपनी बात बताते समय मन में कोई डर या शंका ना रखें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share