अपने घर वालों को अपने प्‍यार के बारे में कैसे समझाएं?

महानगरों की बात करें या फिर किसी छोटे से गांव की, प्‍यार की कोई बंदिशे नहीं होती। जब कोई इंसान प्‍यार में पड़ता है तब वह पूरी दुनिया को बड़ी ही आसानी से बोल देता है कि वह किसी खास के प्‍यार में डूबा हुआ है मगर जब बात खुद के माता पिता को बताने कि आती है तब मानों पैरों तले जमीन खिसक जाती है। पर अगर हमारा प्‍यार सच्‍चा है तो हमें किसी से डरने की कोई जरुरत नहीं है। अगर बच्‍चे ने अपने जीवन साथी को चुनने का फैसला खुद ही कर लिया है तो पेरेंट्स को भी बच्‍चों की बात सुननी चाहिये।

मगर ऐसा बहुत कम होता है कि पेरेंट्स अपने बच्‍चे की बात मानते हैं। बात ना मानने के घर वालों के अपने कारण होते हैं, जिस पर वह आंख मूंद कर चलते रहते हैं। वे लड़के और लड़कियां जिन्‍होंने अपने लाइफ पार्टनर का चुनाव खुद ही कर लिया है, उनके लिये हम लाएं हैं कुछ ऐसे तरीके जिनसे आप आसानी से अपने माता-पिता को ये बोल सकते हैं कि आपने अपना लाइफ पार्टनर खुद ही ढूंढ लिया है। आइये देखते हैं क्‍या है वो तरीका

उनसे बात करें

अगर आप चाहते हैं कि आपके पेरेंट्स आपकी बात माने तो सबसे पहला काम आपको केवल यह करना होगा कि उनकी बात को माने। उन्‍हें अपने बॉयफ्रेंड की सारी अच्‍छी बातें बताएं और कहें कि यही वह इंसान है जो आपको खुश रख सकता है।

उनकी बातों को सुनें

इस दौरान आपके माता-पिता आपसे बहुत दुखी हो चुके होते हैं, तो ऐसे में आपको उनकी बातें सुन कर उनके दुख को कुछ कम करना चाहिये।

Gyan Dairy

उनका सम्‍मान करें

कई बार लड़कियां अपने प्‍यार के चक्‍कर में अपने पेरेंट्स को उतनी इज्‍जत देना भूल जाती हैं जितनी कि उन्‍हें देनी चाहिये। पर इस दौरान अगर आप उन्‍हें इज्‍जत दे कर बात नहीं करेंगी तो उन्‍हें बहुत बुरा लगेगा और आपकी बात बनते बनते बिगड़ जाएगी।

धैर्य बनाए रखें

जब बात अपनी बात को मनवाने की आती है तो आपको थोड़ा सा धैर्य रखने कि आवश्‍यकता पड़ती है। आप को अपनी बातो को समझाने और उनकी बातों को समझने के लिये धैर्य की आवश्‍यकता पडे़गी।

उन पर दबाव ना डालें

उन पर अगर दबाव डालेंगे तो वो और ज्‍यादा गुस्‍सा होगें। यदि वे आपकी बातों को अनसुना कर रहे हैं तो उन्‍हें कुछ दिनों का समय दीजिये पर उन पर दबाव बिल्‍कुल भी ना डालिये।

Share