रजोनिवृति और वजन बढ़ने में संबंध

जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है आपके लिए अपने सामान्य वजन को बनाए रखना अधिक मुश्किल हो जाता है। खासकर एक स्त्री के लिए क्‍योकि उसका वजन रजोनिवृत्ति होने के अग्रणी वर्षों के दौरान बढ़ जाता है। रजोनिवृत्ति के बाद आपका वजन बढ़ता है या नहीं इस पर ध्‍यान दें पर सब से जरूरी आप अपने खाने की स्वस्थ आदतों को अपनाए और सक्रिय जीवन शैली पर ध्‍यान दें।

रजोनिवृत्ति वजन का कारण

रजोनिवृत्ति के बाद हार्मोनल परिवर्तन से आपका वजन बढ़ता है पर यह वजन कूल्हों और जांघों की बजाय पेट के आसपास अधिक बढ़ जाता है। हार्मोनल परिवर्तन अकेले रजोनिवृत्ति के बाद वजन बढ़ने के लिए जिम्‍मेदार हो जरूरी नहीं। इसके लिए आमतौर पर जीवन शैली और आनुवांशिक कारण भी संबंधित हो सकते हैं।

उदाहरण के लिए, रजोनिवृत्त महिलाओं अन्य महिलाओं की तुलना में कम व्यायाम करती हैं जिससे उनका वजन जल्‍दी बढ़ता है। इसके अलावा, मांसपेशियां स्वाभाविक रूप से उम्र के साथ कम हो जाती है। यदि आप रजोनिवृति के बाद भी वैसे ही खाती है जैसे हमेशा खाती थी, तो आप में वजन हासिल करने की संभावना अधिक होती है।

कई महिलाओं के लिए, आनुवांशिक कारण भी रजोनिवृत्ति के बाद वजन बढ़ाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। अगर आपके माता-पिता या अन्य करीबी रिश्तेदार पेट के आसपास अतिरिक्त वजन है, तो आप के लिए भी ऐसा ही होने की संभावना हो सकती है। कभी कभी, बच्चों के छोड़ने और लौटने के कारकों के रूप में – घर, तलाक, पति की मौत या अन्य जीवन में परिवर्तन भी रजोनिवृत्ति के बाद वजन बढ़ने में योगदान देते हैं।

रजोनिवृत्ति के बाद वजन बढ़ने से जोखिम

रजोनिवृत्ति के बाद वजन के बढ़ने के आपके स्वास्थ्य के लिए गंभीर परिणाम हो सकते है। अधिक वजन से उच्च कोलेस्ट्रॉल, उच्च रक्तचाप और टाइप 2 मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है। और इन सबसे हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। अधिक वजन कोलेस्ट्रॉल कैंसर और स्तन कैंसर सहित विभिन्न प्रकार के कैंसर के जोखिम को भी बढ़ा देता है। कुछ शोध से यह पता चला है कि 50 साल की उम्र में या उसके बाद स्तन कैंसर के खतरे बढ़ जाते है।

Gyan Dairy

रजोनिवृत्ति के बाद वजन को रोकने के तरीके

रजोनिवृत्ति के बाद वजन को रोकने के लिए कोई जादुई फार्मूला नही है। पर आप वजन नियंत्रण सम्‍बन्‍धी मूल बातों को अपनाकर वजन को बढ़ने से रोक सकते है।

एरोबिक गतिविधि :- एरोबिक आपको अतिरिक्त वजन को घटाने और स्वस्थ वजन को बनाए रखने में मदद करता है। नियमित रूप से और निरंतर एरोबिक व्यायाम करे और यह लक्ष्‍य बना ले कि आपको एक दिन में कम से कम 30 मिनट शारीरिक गतिविधि करनी ही करनी है। इससे आपके चयापचय को बढ़ावा मिलता है।
शक्ति प्रशिक्षण से अपनी मांसपेशियों को बनाए रखने के लिए व्‍यायाम के रूप में वजन प्रशिक्षण या तेज चलने जैसे व्यायाम करे। शक्ति प्रशिक्षण अभ्यास के लिए कम से कम एक सप्ताह में दो बार करना चाहिए। कोई भी इस तरह का नया व्यायाम कार्यक्रम शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें।

कम खाएं :- अपने वर्तमान वजन बनाए रखने के लिए आप को एक दिन में 200 से कम कैलोरी की आवश्यकता हो सकती है। कैलोरी कम करने के लिए आप को पोषण में कटौती किए बिना क्या खा रहे हैं और क्‍या पीना है इस पर ध्यान देना है। अधिक फल, सब्जियों और साबुत अनाज चुनें। प्रोटीन स्रोतों का सहारा लें, भोजन को छोडें नहीं। कम वसा और उच्च फाइबर आहार को चुनें।

Share