इन कारणों से माफ कर देना चाहिये अपने एक्‍स को

दिल से मजबूर होकर हर व्यक्ति किसा ना किसी की गिरफ्त में आ जाता है। किसी का खूबसूरत चेहरा, स्वभाव, गुण व हमारी खुद की इच्छाएं हमें किसी का दिवाना बना देती हैं। पहले यह अनुभव बहुत मीठा लगता है लेकिन रिश्तों के टूटते ही इसमें खटास पैदा हो जाती है। ये खटास हमारे मन में उस व्यक्ति के लिए जहर भर देती है। अतः हमारे मन में क्रोध, नफरत, ईर्ष्या जैसा भावनाएं घर कर लेती हैं।

अब व्यक्ति तंग आकर इन भावनाओं से बाहर निकलने के बारे में सोचता है तो उसे कोई रास्ता नज़र नहीं आता है। कभी-कभी वह अपने स्वभाव में आई तबदीले के कारण को ही नहीं समझ पाता है। अपनी गलतियों को किसी और के माथे मलने के बयाज अपनी जिंदगी को सवारने की कोशिश करें। पुरानी यादों में बसे व्यक्ति को माफ करके अपने मन के बोझ को हलका करें।

भले ही यह काम थोडा मुश्किल है लेकिन क्षमा से ही इंसान अपने जीवन में ऊपर उठ सकता है। क्षमा से व्यक्ति के मन में बसी सारी मैल धुल जाती है तथा वह अपनी बीती यादों से बाहर आता है। किस ने क्या किया? इन सवालों के जवाब खोजने के बजाय आपको क्या करना है इस पर ध्यान दें। दिल बड़ा करके उस व्यक्ति को माफ करें।

सबर करें

रिश्तों के टूटते ही हमें ऐसा लगता है कि जैसे हमारी पूरी दुनिया समाप्त हो गई हो व आगे हमारे जीवन में कुछ नहीं बचा है। इस निराशा के कारण व्यक्ति के मन में कई भावनाएँ उत्पन्न होती हैं तथा वह नकारात्मक विचारों से बाहर नहीं आ पाता है। हमें समझना चाहिए कि समय हर पल एक जैसा नहीं रहता है तथा यह बुरा वक्त भी गुजर जाएगा। इसके लिए हमें सकारात्मक सोच के साथ थोडा सा सबर करने की आवश्यकता है।

अपने क्रोध को शांत करें

पुरानी बातों को याद करने से आपका मन और दुखी होगा तथा ये यादें आपके मन में नफ़रत को बढ़ाएंगी। अपने मन को शांत करने के लिए योग व प्रार्थना का सहारा लें। सच्चे दिन से उस व्यक्ति को माफ करें तथा भगवान के सामने प्रार्थना करें कि वो आपको इस कठिन समय को पार करने की शक्ति दें।

इस घटना का आभार व्यक्त करें

हमारे जीवन में जो कुछ भी होता है सब अच्छे के लिए होता है और हर घटना के पीछे एक कारण छुपा होता है। लेकिन मनुष्य की सोच बहुत सीमित होती है एवं वह इन बातों को इतनी गहराई से समझ नहीं पाता है। परंतु कुछ समय बाद जब वक्त उनके पक्ष में काम करने लगता है, तब उसे इस बात का एहसास होता है। अतः जीवन में आगे बढने के लिए हमें पिछली बातों को भुलाने की जरूरत है।

Gyan Dairy

वास्तविकता को स्वीकारें

जीवन में आने वाले अचान मोड हमें हैरान कर देते हैं। दुविधा भरी स्थिति में हम वास्तविकता को स्वीकारने से कतराते हैं। लेकिन सच्चाई को जितनी जल्दी मान लिया जाए उतना ही अच्छा है। बदलते हालात हम पर नई जिम्मेदारियों को लादने की तैयारी में रहते हैं, जिसके लिए जिंदगी की गाडी को पटरी पर लाना बहुत जरूरी है।

भावनाएं

जिंदगी में दुःख व सुख धूप और छांव की तरह है। इन परिस्थितियों में रोना व हंसना मनुष्य का स्वभाव है। इस भावनाओं को महसूस करें क्योंकि तभी आप दूसरे के दुःख को समझ पाएंगे।

सलाह

जीवन में सलाह देने वालों की कमी नहीं है। लेकिन हमारी परवाह करने वालों की सलाह को हमें मान लेना चाहिए।

बीत गई सो बात गई

हमारा गुजरा हुआ कल एक काली अंधेरी रात थी। लेकिन आने वाला कल एक सुनहरी सुबह है। कल पर आंसू बहाने के बजाय हमें आने वाले समय के स्वागत की तैयारी करनी चाहिए।

Share