अल्जाइमर, डिमेंशिया जैसी घातक बीमारियों में कारगर है स्ट्रॉबेरी

नई दिल्ली। आजकल की भागदौड भरी जिंदगी का असर खानपान और सेहत पर भी पड़ रहा है। जिससे कई ​बीमारियां भी हमारे पीछे पड़ जाती है। ​इनमें से एक है ‘भूलने की बीमारी।’ ​लेकिन परेशान न हो इसका भी उपाय है ​यदि आप नियमित रूप से स्ट्रॉबरी का सेवन करते हैं तो आपकी सेहत पर इसका असर दिखेगा। आपको बढ़ती उम्र में याददाश्त और तर्क शक्ति में गिरावट की शिकायत नहीं सताएगी। एक साथ कई काम निपटाने, सही-गलत में अंतर करने और त्वरित फैसले लेने की क्षमता भी बनी रहती है।

शोधकर्ताओं की मानें तो स्ट्रॉबेरी अल्जाइमर्स और डिमेंशिया जैसी घातक बीमारियों से बचाव में भी कारगर है। शोध में शामिल जिन प्रतिभागियों ने हफ्ते में दो से तीन बार स्ट्रॉबेरी खाई, उनमें दोनों ही बीमारियों के खतरे में 34 फीसदी तक की कमी दर्ज की गई। पूर्व में हुए कुछ अध्ययनों में स्ट्रॉबेरी को हृदयरोग और स्ट्रोक से बचाव में भी कारगर करार दिया जा चुका है। शोधकर्ताओं के मुताबिक स्ट्रॉबेरी में फ्लैवेनॉयड और विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। दोनों ही तत्व अपने ‘एंटी-ऑक्सिडेटिव’ गुणों के लिए जाने जाते हैं। ये फ्री-रैडिकल को तंत्रिका तंत्र में मौजूद कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने से रोकते हैं।

Gyan Dairy
Share