अपोजिट सेक्‍स को अट्रेक्‍ट करने के 3 सबसे पावरफुल तरीके

क्‍या आपने कभी सोचा है हम अपॉजिट सेक्‍स के प्रति क्‍यों आकर्षित होते है। कई बार हम ऐसे लोगों से भी मिलते है जो वाकई काफी सम्‍मोहक होते है। जिनके आसपास रहना हमें काफी अच्‍छा लगता है और उनके चलने से लेकर सिर घूमाने की अदा और उनके कॉन्फिडेंस में भी सेक्‍स अपील छुपा होता है। और कुछ लोग ऐसे भी मिलेंगे जिन्‍हें आप बहुत आकर्षित से लगते हो।

इसके अलावा भी कुछ ऐसे लोग भी होते है जो बहुत ही सामान्‍य से दिखते है लेकिन उनमें भी कुछ अलग सेक्‍स अपील होती है। वैज्ञानि‍कों की रिसर्च की माने तो हर इंसान में बहुत सी ऐसी कला छिपी होती है अपने अपोजिट सेक्‍स के प्रति तीन तरीके से आकर्षण जगा सकते है।

आपकी मौजूदगी में हो अलग अहसास

यहां हम यह नहीं कह रहे है कि आपकी मौजूदगी या अपीरियंस ऐसी हो कि सब लोग आपकों ही नोटिस करें। कभी भी खुद की अपीरियंस फील कराने या अटेंंशन पाने के लिए लालायित होने की जरुरत है। बस इस बात का ख्‍याल रखे कि आपके ड्रेसेज, ग्रूमिंग और फिजिकल फिटनेस खराब नहीं दिखनी चाहिए। इसका मतलब है कि आपका स्‍वस्‍थ और साफ रहे।

आपसे अच्‍छी महक आनी चाहिए एक अच्‍छे हेयर स्‍टाइल के साथ आपका वॉर्डरोब भी हमेशा ताजा और खुशबूदार होना चाहिए। सबसे जरुरी बात यह है कि आप यह सोचकर मत चिंतित हो कि आप कैसे दिखते हैं। बस निश्चित रहे कि आप जैसे भी दिखे हमेशा अच्‍छे लगे। क्‍योंकि अच्‍छे लगेंगे तो आप अच्‍छे से दूसरों को सम्‍मोहित कर सकते हैं।

Gyan Dairy

अपनी पॉजीटिव क्‍वॉलिटी दिखाएं

अट्रेक्‍शन का फिजिकल क्‍वॉलिटिज नहीं है। डेटिंग्‍स फिजिक्‍स से ज्‍यादा पर्सनेलिटी का महत्‍व होता है। अट्रेक्टिव होने के लिए पॉजीटिव क्‍वॉलिटिज होना जरुरी है क्‍योंकि इससे एक अच्‍छी पर्सनेलिटी डवलप होती है। आपको याद होगा कि बचपन में मम्‍मी कहा करती थी कि आपकी अच्‍छी क्‍वॉलिटिज आपको अच्‍छी जगह ले जाएंगी ।

वो बिल्‍कुल सही कहा करती थी। इस सिचुएशन में भी अच्‍छी सोच , अच्‍छा व्‍यवहार, और दयालु होना आपकी पर्सनेलिटी को अच्‍छा बनाता है। अगर आप किसी को डेट कर रहे है तो आपकी यही क्‍वॉलिटिज आपके पार्टनर को आपके साथ सहज और खुशनुमा अहसास देता है।

ध्‍यान खींचना

अगर आपकी अपीरियंस और पर्सनेलिटी अच्‍छी है। तो आप लॉ ऑफ अट्रेक्‍शन के अनुसार तीसरी महत्‍वपूर्ण चीज यह है कि लोगों को अट्रेक्‍ट करने के लिए खुद को एक्‍सप्‍लोर करना बेहद जरुरी है। सोशल सर्किल बनाएं, ज्‍यादा से ज्‍यादा एक्टिवि‍टी में पार्टीसिपेट करेंं ताकि आप ज्‍यादा से ज्‍याादा लोगों से मिले और लोग आपको पहचाने। सबसे आखिर में आप जिसे पसंद करते हैं उसे सही संकेत देंं, जैसे एक फ्रैंडली स्‍माइल, आई कॉन्‍टेक्‍ट और फ्लर्टी टच के साथ बात करें। बस कॉन्फ्डिेंस को न भूलिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share