बर्ड फ्लू से सतर्क रहने के साथ ही समय पर इलाज सबसे जरूरी

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी अभी खत्म होने का नाम ही ले रही कि इसी बीच बर्ड फ्लू ने अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया है। मध्यप्रदेश, राजस्थान, केरल और हिमाचल प्रदेश समेत कई राज्यों में तो इसकी पुष्टि भी चुकी है। ऐसे में लोगों के मन में यह शंका आ रही है कि इसके लक्षण कैसे होते है और इसका क्या इलाज है। मनुष्यों के लिए बर्ड फ्लू एक गंभीर समस्या बन सकता है जिसका इलाज किसी भी हालत में घर में सम्भव नहीं है। क्योंकि इसमें व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है।

बर्ड फ्लू से सतर्क रहने और समय पर इसका इलाज सबसे जरूरी है। इसके मुख्य लक्षणों में बुखार आना, बैचेनी होना, शरीर में दर्द होना, सर्दी और गले में खराश होने जैसी समस्याएं बर्ड फ्लू के शुरुआती लक्षणों में से एक हैं। कई बार पेट में दर्द की समस्या, सीने में दर्द और पेट संबंधी समस्याएं जैसे दस्त की समस्या भी हो सकती है। अगर आपको कुछ ऐसी समस्याएं समझ आती हैं तो अपना टेस्ट जरूर कराएं। गंभीर लक्षणों में सांस लेने में तकलीफ और निमोनिया जैसी समस्या के पीछे का कारण बर्ड फ्लू हो सकता है।

Gyan Dairy
Share