मर्दों के लिए तरस रही हैं इस गांव की कमसिन लडकियाँ !

इस गांव में खूबसूरत और कमसिन लड़कियों की कोई कमी नहीं है. यहां रहनेवाली कमसिन लडकियाँ आम लड़कियों की तरह शादी के सपने भी देखती हैं. इन लड़कियों की भी ख्वाहिश है कि उनके सपनों का राजकुमार एक दिन आएगा और उन्हें अपने साथ ले जाएगा. लेकिन इन खूबसूरत और जवान लड़कियों की यह ख्वाहिश अक्सर अधूरी रह जाती है और वो मर्दों का इंतजार ही करती रह जाती हैं. अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये कौन सा गांव है और इसके पीछे क्या वजह हो सकती है. तो आइए हम आपको बताते हैं

लड़कियों को नहीं मिल रहे हैं कुंवारे लड़के

दरअसल ब्राजील के नोइवा दो कोरडेएरो कस्बा पहाड़ों के बीच बसा है. यह कस्बा जितना खूबसूरत है उतनी ही खूबसूरत है यहां की जवान और कमसिन लडकियाँ. बताया जाता है कि इस कस्बे में रहनेवाली 20 से 35 साल की हज़ारों खूबसूरत लड़कियां शादी करने के लिए कुंवारे मर्दों की तलाश कर रही हैं लेकिन शादी के लिए उन्हें लड़के ही नहीं मिल रहे हैं.

कस्बे में लड़कों की संख्या है काफी कम

इस कस्बे की सबसे बड़ी विडंबना यह है कि यहां लड़कियों के मुकाबले लड़कों की संख्या बेहद कम है. इस कस्बे में रहनेवाली लड़कियां प्यार और शादी के सपने संजोती हैं लेकिन सिर्फ शादी के लिए अपना कस्बा भी नहीं छोड़ना चाहती.

Gyan Dairy

यहां रहनेवाली लड़कियां चाहती हैं कि दूसरे गांवों के लोग उनके साथ शादी करें और उनके साथ यहीं बस जाएं. बस इसी के चलते लड़कियों को शादी के लिए मर्द नहीं मिल रहे हैं. इस कस्बे में बहुत ही कम मर्द हैं, जिनमें से कई शादीशुदा हैं और जो कुंवारे हैं वो उम्र में काफी छोटे हैं.

जन्मदर में असमानता से बढ़ी परेशानी

बताया जाता है कि लड़के और लड़कियों के जन्मदर में असमानता की वजह से ही इस कस्बे में समस्या पैदा हुई है. लड़कों की कमी होने की वजह से यहां महिलाओं का ही वर्चस्व है. यहां तक कि महिलाओं के बनाए नियमों के मुताबिक ही पुरुषों को चलना पड़ता है. गौरतलब है कि अगर लड़कियां शादी के लिए दूसरे कस्बों का रुख नहीं करेंगी तो हो सकता है कि शादी के लिए मर्दों के इंतज़ार में उनकी जवानी ही ढल जाए.

Share