वर्किंग कपल्‍स के लिए बातचीत को सुधारने के तरीके

अधिकांशत: लोगों को नहीं मालूम होता है कि बातचीत कैसे की जाएं। अगर किसी भी इंसान को कुशलतापूर्वक बातचीत करना नहीं आता है तो उसे किसी भी रिश्‍ते को निभाना मुश्किल होता है। एक – दूसरे को बिना सुनें और उनसे बिना बातचीत किए, आपस में अंतरंगता नहीं बन पाती है, इसलिए जरूरी है कि अपने टाइट शेड्यूल से भी अपने पार्टनर के लिए टाइम निकालें और उसने बातचीत करें।

कई बार जोड़ों या कपल्‍स में छोटी – छोटी बातों को तकरार हो जाती है और कुछ समय के लिए बातचीत बंद हो जाती है। अगर ऐसा कई बार होता है और दोनों में से कोई भी पहले बात करने की पहल नहीं करता है तो रिश्‍ते में दरार आने का खतरा ज्‍यादा हो जाता है। इसलिए, आप आपस में बहस कर लें, किसी मुद्दे को लेकर हॉट डिस्‍कशन कर लें लेकिन बातें करना कतई बंद न करें। अगर थोड़ी देर के लिए आपसी बातचीत बंद भी हो जाती है तो भी दुबारा बात करें और ठंडे दिमाग से काम लें।

आपसी मतभेद और तकरार की स्थिति सबसे ज्‍यादा उस समय आती है जब पति और पत्‍नी, दोनों वर्किंग होते हैं। दोनों को कई प्रोफेशनल टेंशन होती है, कई अपनी अपनी बात मनवाने पर तुले रहते है तो दिक्‍कत होना स्‍वाभाविक है। ऐसे में पूरी सूझबूझ से काम लेना चाहिए और स्थिति को संभालते हुए बातचीत करना चाहिए। वर्किंग कपल्‍स के लिए बातचीत को सुधारने के कुछ टिप्‍स निम्‍म प्रकार हैं

सुनें

किसी भी रिश्‍ते में मुश्किलें तब खड़ी हो जाती है जब पार्टनर एक – दूसरे की बात नहीं सुनते हैं। वर्किंग पार्टनर के पास समय की कमी होती है और वह एक – दूसरे को कम समय दे पाते है। इसलिए, वर्किंग कपल्‍स को हमेशा एक – दूसरे की बात ध्‍यान से सुननी चाहिए और उस अपनी प्रतिक्रिया भी देनी चाहिए। इससे कई मुश्किलें स्‍वत: हल हो जाती हैं।

व्‍यक्‍त करें

ऐसा बहुत कम लोग कर पाते हैं कि उनके मन में जो भी चलता है वह सब कुछ अपने पार्टनर से शेयर कर लें। लेकिन विश्‍वास करिए, अगर आप अपने पार्टनर के साथ हर बात खुलकर करते हैं और अपनी भावनाएं अच्‍छी तरह व्‍यक्‍त करते हैं तो आप दोनों के रिश्‍ते में सदैव मधुरता बनी रहेगी। ऑफिस के लेकर वहां काम करने वाले लोगों के बारे में अपनी सोच को भी आप व्‍यक्‍त करें।

Gyan Dairy

ईमानदारी

अगर आपके द्वारा पार्टनर के साथ की जाने वाली बातचीत ईमानदारी से भरी नहीं है तो उसे करने का कोई महत्‍व नहीं है। अपने पार्टनर से झूठ न बोलें। उनके प्रति ईमानदार रहें, जो है जैसा है साफ – साफ बता दें। अगर आप सच्‍चे तरीके से बात करते है तो चीजें और मुश्किलें अपने आप हल हो जाएगी। किसी भी प्रकार की दिक्‍कत होने पर खुलकर बातचीत करें।

ध्‍यान दें

कई बार पार्टनर इतना ज्‍यादा बिजी रहते है कि वह आपस में बातचीत करते हैं पर पूरी तरह से पार्टनर पर ध्‍यान नहीं दे पाते हैं। ऐसा न करें। अपने आपको वक्‍त दें और पार्टनर पर भी ध्‍यान दें ताकि वह आपको और आप उन्‍हे अच्‍छी तरह समझ सकें। अगर आपके पार्टनर पिछले कुछ दिनों से आपमें रूचि नहीं ले रहे हैं तो प्‍यार से पूछ लें और इस बारे में अपनी दुविधा दूर करें।

सम्‍मान और सहयोग

शादीशुदा जिन्‍दगी में अधिकांशत: लड़ाईयां इस बात को लेकर होती है कि पार्टनर एक दूसरे की रिस्‍पेक्‍ट नहीं करते हैं और सहयोग भी नहीं देते है। ऐसा कतई न करें। अपने पार्टनर को सम्‍मान दें, उनकी हर बात को तबज्‍जों दें और उन्‍हे उनके कामों में सहयोग प्रदान करें। इससे आप दोनों के बीच की दूरी कम होगी और प्‍यार बढ़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share