रिश्‍ते में जलन को दूर करने के तरीके

किसी भी रिश्‍ते में जलन या ईर्ष्‍या होने पर सम्‍हलने की जरूरत होती है। किसी भी रिश्‍ते में महिलाएं ज्‍यादा असुरक्षित और ईर्ष्‍या महसूस करती है, ये आदत वाकई में खतरनाक होती है। किसी भी लड़की या महिला को अपने प्रेमी या पति को लेकर ज्‍यादा चिंता होती है लेकिन इस वजह से जलन या ईष्‍या करना सही नहीं है। इस तरीके से आपका प्‍यारा रिश्‍ता टूट सकता है।

अगर आपके साथ ऐसा है तो आपको आपसी समझ और विश्‍वास की जरूरत है। ब्‍यॉवफ्रैंड के फ्लर्ट करने पर उसे टोकें , पूछें लेकिन कभी बहुत ज्‍यादा शक न करें। रिश्‍ते या लव अफेयर में जलन होने पर कई दिक्‍कतें होती हैं, बेवजह के झगड़े होते है, फालतू की बहस होती है और तनाव बढ़ता है। ऐसे में रिश्‍ते से जलन को दूर करने के तरीके निम्‍म प्रकार हैं

भरोसा

किसी भी रिश्‍ते का आधार, भरोसा या सच्‍चाई होती है। भरोसे के बिना कोई रिश्‍ता ज्‍यादा लम्‍बे समय तक नहीं चलता है। अपने पार्टनर पर हमेशा भरोसा रखें और उसे दिल से प्‍यार करें। जरूरी नहीं कि आप अपने पार्टनर पर आंख मूंदकर भरोसा करें, लेकिन शक और जलन करने की आदत छोड़ दें वरना रिश्‍ते में दरार आते देर नहीं लगेगी।

बातचीत

दिक्‍कतें तब शुरू होती है जब आप दोनों एक दूसरे से बात करना भी पसंद नहीं करते है। बातचीत किसी भी समस्‍या या जलन को दूर करने का सबसे अच्‍छा तरीका होता है। अगर आपको अपने पार्टनर से किसी बात पर जलन होती है तो उसे बताएं कि आप क्‍या महसूस करते है और क्‍या चाहते है। इस तरह किसी भी प्रॉब्लम को शॉर्टआउट करना चाहिए। सिर्फ सेक्‍स करने से सारी समस्‍याएं दूर नहीं हो जाती, आपसी बातचीत भी जरूरी होती है।

Gyan Dairy

व्‍यक्तिगत स्‍पेस दें

किसी भी सफल रिश्‍ते में सबसे जरूरी बात निजता होती है। अपने पार्टनर को पर्सनल स्‍पेस दें, उसे कभी – कभार उसके लिए जीने का मौका दें, सोचने का मौका दें, ताकि वह अपने हिसाब से चल सकें। हर समय चिपके रहना या अपनी बात मनवाने की आदत भी अच्‍छी नहीं होती है। आपको हमेशा जानना जरूरी है कि आपका पार्टनर क्‍या कर रहा है या उसकी जिन्‍दगी में क्‍या चल रहा है लेकिन एक हद से ज्‍यादा हस्‍तक्षेप न करें।

समझें

जलन को दूर करने के लिए सबसे अच्‍छा तरीका होता है – अपने पार्टनर को समझना। एक स्‍वस्‍थ रिलेशन को बनाएं रखने के लिए पार्टनर को समझें, उसकी जरूरतों को समझें। भरोसे और आपसी समझ में जमीन – आसमान का अंतर होता है, ये दोनों बातें बिल्‍कुल अलग होती है लेकिन किसी भी रिश्‍ते को लम्‍बे समय तक चलाने के लिए इनका महत्‍व बराबर होता है।

हमेशा प्‍यार करें

चाहें कुछ भी हो जाएं, आप दोनों एक – दूसरे से खुद को अलग न करें, अपने दिलों में एक – दूसरे के लिए हमेशा जगह बनाकर रखें। जिस दिन आप अपने पार्टनर से दूरी बनाकर सोचने लगेगे, उसी दिन से आपके दिल में उसके लिए जगह कम हो जाएगी और धीरे – धीरे आप दोनों का प्‍यार कम हो जाएगा। अगर आप अपने पार्टनर से हर स्थिति में प्‍यार करते रहेंगे तो किसी भी मुश्किल से बाहर निकल आएंगे। जलन या असुरक्षा की भावना आने से कई बार रिश्‍तों में दरार आ जाती है, आपसी समझ से ऐसा कतई न होने दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share