क्‍या होता है जब आप डेटिंग करना शुरु करते हैं

हम सभी को उस एक खास का बेसर्बी से इंतजार रहता है, जो हमें ढेर सारा प्‍यार करे और अपने दिल में जगह दे। ऐसे व्‍यक्‍ति को हमसफर या फिर सोल मेट भी कह कर बुला सकते हैं। अगर आप इस वक्‍त प्‍यार में हैं तो क्‍या आपने इस बात पर ध्‍यान दिया है, कि आपमें थोड़ा-बहुत बदलाव आना शुरु हो चुका है। जिसके बारे में आप से ज्‍यादा आपके दोस्‍त जानने लगे हैं? आप का क्‍या? आप तो प्‍यार में डूबे रहते हैं, आस-पास की दुनिया में क्‍या चल रहा है क्‍या नहीं, आपको उससे कोई फरक नहीं पड़ता।

जब आप किसी के साथ डेटिंग कर रहे होते हैं तो आपके मन में केवल आपका पार्टनर होता है। इस दौरान आप कोशिश करते हैं कि आप किस तरह से अपना पूरा समय केवल उसी के साथ बिता सकें और आपको कोई परेशान करने वाला ना हो। प्‍यार में पड़ने के बाद वे लोग जो आपके करीबी थे, धीरे-धीरे कर के आप उन्‍हें भी भूलने लग जाते हैं। कई लोगों के साथ ऐसा भी होता है, कि जो काम उन्‍हें पहले करना बहुत पसंद होता था, जैसे नॉवल पढ़ना या टीवी देखना आदि, वह सब भी बंद हो जाता है। आइये जानते हैं कि ऐसी कौन सी चीज़े हैं कि जब आप किसी के प्‍यार में डूबते हैं, तो आपके अंदर क्‍या क्‍या बदलाव आ जाते हैं।

आप अपने दोस्‍तों को भूल जाते हैं

जब आप एक नए रिश्‍ते में जाते हैं तो यह एक बहुत ही आम बात सी बन जाती। आप अपने जिगरी दोस्‍तों को भूल जाते हैं और उन्‍हें कोई महत्‍व नहीं देते।

ग्रुप हैंगआउट बंद हो जाता है

जब आप खुद का एक पार्टनर खोज लेते हैं तब आपको दूसरों के साथ हैंगआउट करना ना पसंद होता है। आपको केवल अपने पार्टनर का ही साथ अच्‍छा लगने लगता है इसलिये आप ग्रुप हैंगआउट को टाइम की बरबादी समझने लगते हैं।

वो आपका प्र‍िय साथी बन जाता है

जब आप कोई नया रिश्‍ता बनाती हैं, आपका पार्टनर आपका बेस्‍ट फ्रेंड बन जाता है। आप उससे अपने दिल की हर बात शेयर करना शुरु कर देती हैं।

Gyan Dairy

हवा में प्‍यार ही प्‍यार फैल जाता है

जब आप अपना प्‍यार ढूंढ लेते हैं, तो आप अन्‍य दूसरी चीजों के बारे में नहीं सोंचते। आपको अपना पूरा समय केवल अपने साथी के साथ बिताना पसंद होता है। अपनी लव लाइफ को मसालेदार बनाने के लिये आप कुछ भी कर सकते हैं।

दिन हर वक्‍त फोन पर बीतता है

इस दौरान आप दुनिया-जहान को छोड़ कर केवल अपने पार्टनर से बात करने में लगे रहते हैं। उससे एक एक पल की घटना पूछते रहते हैं। रात की बात करें तो रातभर आपको उससे बात किये बिना नींद नहीं आती।

अपने प्रोफेशन की चिंता भूल जाते हैं

यह प्‍यार का एक साइड इफेक्‍ट होता है, जिसमें आप ऑफिस का काम-धाम छोड़ कर केवल अपने प्‍यार के बारे में सोंचते रहते हैं। यहां तक कि अगर ऑफिस में कोई आपको कुछ बोले भी तो आपको गुस्‍सा नहीं आता।

पढ़ने का समय नहीं मिलता

अगर आपको पहले रीड़िग का शौक था, तो अब वह भी नहीं बचा क्‍योंकि आप प्‍यार में हो हैं। किताबे सालों साल वहीं पर पड़ी रहती हैं और आपके पास उन्‍हें छूने तक का समय नहीं है।

Share