इन 10 कारणों की वजह से होता है हनीमून शादी का सबसे बेस्‍ट पल

शादी के दौरान कोई भी चीज इतना उत्साहित नहीं करती करती, जितना कि हनीमून। ये समय प्यारऔर आपसी केयर से भरा होता है, जब दोनों पति-पत्नी एक दूसरे का पूरा ख्याल रखते हैं। आपके हनीमून के समय ना कोई झिकझिक होती है और ना कोई बोझ। लेकिन हनीमून का समय खत्म होते ही वही झिकझिक शुरू हो जाती है और आपको शादी की सच्चाई का पता चलता है। आपके हनीमून के समय ना कोई झिकझिक होती है और ना कोई बोझ। लेकिन हनीमून का समय खत्म होते ही वही झिकझिक शुरू हो जाती है और आपको शादी की सच्चाई का पता चलता है।

शुद्ध प्यार और लगाव

इस समय आपको कुछ ऐसी फीलिंग आती है “आजकल पाँव जमी पर नहीं पड़ते मेरे”। इस समय आप अपने पार्टनर के साथ प्यार में ऊपर से नीचे तक पूरा सरोबार हो जाते हो। ‘वह कितना हैंडसम है’ या ‘वह कितनी सुंदर है’ यह विचार आपके मन में आता है और आप उन्हें अपना दिल दे बैठते हैं।

बेइंतहा और असीम रोमांस

इस समय आपमें एक जुनून होता है। रात और दिन बस रोमांस। हर चीज आपके माहौल को रोमांटिक बना देती है।

एक दूसरे के साथ पूरी सहमति

हाँ, यह सही है। हनीमून के दौरान आप एक दूसरे से पूरी तरह सहमत होते हैं। चाहे खाने का मेन्यू चुनना हो, बिस्तर पर किधर सोना है यह निर्णय लेना हो, कोई प्लान बदलना हो या फिर कुछ भी, एक पार्टनर जो कहता है दूसरा उसका पूरा समर्थन करता है। लेकिन इस समय के बाद शायद आपकी सहमति कब असहमति में बादल जाएगी पता ही नहीं चलेगा।

कोई लड़ाई-झगड़ा नहीं

इस बात पर अगर गौर करें तो आपकी शादीशुदा जिंदगी में इससे अच्छा समय नहीं आएगा। यही वह समय है जब आप एक दूसरे से वास्तविक रूप से नहीं लड़ते, और यदि कोई असहमति या संदेह भी होता है तो प्यार से सुलझा लेते हैं। आप अगर थोड़ा बहुत लड़ भी लेते हैं तो थोड़ी देर बाद ही हंस पड़ते हैं कि कितनी बेकार सी चीज पर हम झगड़ रहे हैं। और इससे भी रोमांस बढ़ता है। और जब यह हनीमून का समय खत्म होता है तो सारे नियम ताक पर रखकर, सारी सीमाएं लांघकर आप ना जाने किन-किन चीजों पर लड़ते हैं, और कभी-कभी तो रात भी लड़ते हुये ही कटती है।

सिर्फ एक दूसरे को ही देखना

इस दौरान आपके जीवनसाथी किसी और महिला को नहीं ताकते। उनकी आँखें सिर्फ आपकी खूबसूरती को ही तलाशती हैं लेकिन ये बात और है कि ये आँखें समय के साथ-साथ इधर-उधर भटकने लग जाती हैं।

Gyan Dairy

शुद्ध प्यार

इस समय आपका एक दूसरे के प्रति प्यार पूरी तरह पवित्र होता है। इस समय दूसरों का हस्तक्षेप, आशाएँ, और आपके एक दूसरे पर संदेह जैसी चीजें आपके आड़े नहीं आती हैं। आप एक दूसरे में सिर्फ अच्छाई ही देखते हैं। आप जीवन की सच्चाई से दूर अपने पार्टनर के साथ एक आने वाले नए सुखद जीवन की कल्पना में खो जाते हैं।

उनकी कोई चीज आपको गुस्सा नहीं दिलाती है

पसीने की बदबू से लेकर उनकी तीखी करकस आवाज तक सब कुछ आपको अच्छा लगता है। आप उनके तकिये में मुंह डालते हैं तो आपको कोई बदबू नहीं आती है। इस समय के बाद तो एक दूसरे पर गुस्सा आने के ना जाने कितने कारण बन जाते हैं।

सिर्फ एक दूसरे पर ध्यान

इस समय आपको जो चीज सबसे अच्छी लगती है वो है एक दूसरे का साथ। इस समय आप ना तो गेम खेलते हैं, ना ही फेसबुक को समय देते हैं, ना दोस्तों और परिवारजनों से ज्यादा बात करते हैं। इस समय के बाद शायद कई चीजें है जिनके कारण आप एक दूसरे को उतना समय ना दे पाएँ।

आप एक दूसरे की प्रशंसा करते हैं

हनीमून के समय के दौरान आपके जीवनसाथी या आपकी जीवन साथी आपके लिए जैसे भगवान बन जाते हैं और आप उनकी प्रशंसा के पुल बांधते हैं। और बाद में इस हनीमून पीरियड के बाद जब आप एक दूसरे को पूरी तरह जान जाते हैं तो एक दूसरे को चिढ़ाने और मज़ाक उड़ाने का कोई मौका नहीं चूकते।

“एक दूसरे के लिए बने हैं” वाली फीलिंग

इस समय पर आपको अपने जीवनसाथी से अच्छा कोई नहीं लगता। लेकिन हनीमून के बाद आप उनसे दूर अपने दोस्तों के साथ समय बिताना ज्यादा पसंद करेंगे।

Share